Wednesday, Oct 16, 2019
Before Modi-Jinping meeting, RSS demands to return Aksai to China

मोदी-जिनपिंग मुलाकात से पहले RSS ने की अक्साई चीन लौटाने की मांग

  • Updated on 10/11/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। चीन (China) के राष्ट्रपति शी जिंगपिंग (Xi Jinping) भारत में आज दो दिवसीय दौरे पर आ रहे हैं। दोनों देशों के बीच होने वाली वार्ता से पहले राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (Rashtriya Swayamsevak Sangh) ने चीन से कहा है कि वे अक्साई चीन (Aksai Chin) क्षेत्र भारत को वापस करें। आरएसएस (RSS) के वरिष्ठ नेता इंद्रेश कुमार (Indresh Kumar) ने चीन से मांग की है कि पाकिस्तान (Pakistan) से कहे कि अपने अवैध कब्जा वाले कश्मीर (POK) को भारत को सौंपे और चीन अपने विस्तारवादी नीति पर रोक लगाए। 

महावलीपुरम में आज होगी मोदी-जिगपिंग की मुलाकात, अहम मुद्दों पर होगी बात

उम्मीद है कि अक्साई चीन पर भी बात होगी
बता दें कि गृहमंत्री अमित शाह ने कहा है कि चीन ने हमारे क्षेत्र अक्साई चीन पर अवैध कब्जा किया है। उन्होंने संसद को विशेष तौर पर बताया था कि अक्साई चीन भी हमारा है। उम्मीद है कि इस मुद्दे पर भी वार्ता होगी, क्योंकि आज नहीं तो कल यह मुद्दा उठेगा ही। 

इंद्रेश कुमार ने कहा कि मैं चीन को बताना चाहता हूं कि उसे हमारी जमीन वापस कर देनी चाहिए और अपनी विस्तारवादी नीति पर रोक लगानी चाहिए। 

comments

.
.
.
.
.