Friday, May 14, 2021
-->
bhopal congress workers clashed with police lathis fiercely nailed water canon used prsgnt

भोपाल में किसानों के समर्थन में उतरी कांग्रेस पर पुलिस ने भांजी लाठियां, वाटर कैनन का किया इस्तेमाल

  • Updated on 1/23/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। केंद्र सरकार द्वारा लागू किये गए नए कृषि कानून (Farm Laws) के खिलाफ दिल्ली में जहां किसान 59 दिनों से सड़कों पर बैठें हैं तो वहीँ किसानों का साथ देने के लिए और उनके समर्थन में कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं ने मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में बड़ा मार्च निकाला। 

इस मार्च के दौरान कार्यकर्ता राजभवन घेरने जा रहे थे, लेकिन उन्हें बीच रास्ते में पुलिस ने रोक लिया और दोनों पक्ष की भिड़ंत हो गई।  इस दौरान पुलिस ने कार्यकर्ताओं पर जमकर लाठियां बरसाईं और उन्हें तितर-बितर करने के लिए वॉटर कैनन का भी इस्तेमाल किया।

पूर्व मुख्यमंत्री ने संभाला मोर्चा 
इस प्रदर्शन में पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ, पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति और विधायक कुणाल चौधरी सहित कई नेता और मंत्री शामिल रहे। इसमें महिलाएं भी शामिल रहीं। कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन के दौरान पुलिस के रोकने पर उग्र रूप अपना लिया।  जिसके बाद पुलिस को पथराव करना पड़ा।

जब इससे भी बात नहीं बनी तब वॉटर कैनन का इस्तेमाल किया और आंसू गैस के गोले छोड़े।  इतना ही नहीं, पुलिस ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह सहित जयवर्धन सिंह और कुणाल चौधरी को हिरासत में ले लिया। 

शूटर बताए गए युवक का बड़ा खुलासा, कहा- किसानों ने किडनैप कर बुलवाया झूठ

पूर्व सीएम ने कहा...
पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने राजभवन के लिए कूच करने से पहले कहा, ‘केंद्र ने किसानों के लिए काले कानून बनाए हैं। मैंने अपने समय में एमएसपी के लिए केंद्र सरकार से लड़ाई लड़ी थी। क्या दिल्ली में बैठे किसानों में बुद्धि नहीं है कि वे क्या कर रहे हैं?

उन्होंने कहा कि किसान उद्योगपतियों का बंधुआ मजदूर बन जाएगा। हम एकत्रित हुए हैं देश के सभी किसानों के लिए।कांग्रेस ने ऐलान किया है कि जब तक किसानों के मुद्दे पर केंद्र सरकार कोई फैसला नहीं करती, तब तक वो अपना आंदोलन जारी रखेगी।

सीरम में लगी आग से हुआ 1000 करोड़ से ज्यादा का नुकसान, लेकिन कोविशील्ड पर असर नहीं!

ट्वीट कर की निंदा 
प्रदर्शन के बीच पुलिस के बल प्रयोग करने पर कमलनाथ ने ट्वीट करते हुए कहा, किसानो के समर्थन में आज मध्यप्रदेश के भोपाल में शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे हजारों किसान भाइयों व कांग्रेसजनों पर शिवराज सरकार के ईशारे पर किए गये बर्बर लाठीचार्ज, आंसू गैस व वाटर केनन छोड़े जाने की व गिरफ़्तारी की कड़ी निंदा करता हूं।

उन्होंने एक और ट्वीट करते हुए लिखा, इस लाठीचार्ज में कई किसान भाइयों, कांग्रेसजनो , महिलाओं व मीडिया के साथियों को चोटे आयी है। उनके स्वस्थ होने की कामना करता हूँ। किसानो के समर्थन में हमारा संघर्ष जारी रहेगा, हम ऐसे दमन से डरने-दबने वाले नहीं है।

पढ़ें अन्य बड़ी खबरें...

comments

.
.
.
.
.