Tuesday, Sep 28, 2021
-->
bhu scientists claim only one dose of vaccine enough for people who beaten covid 19 rkdsnt

BHU वैज्ञानिकों का दावा- कोरोना को मात दे चुके लोगों के लिए वैक्सीन की एक खुराक ही काफी

  • Updated on 5/31/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर दावा किया है कि कोरोना वायरस संक्रमण से मुक्त हो चुके लोगों के लिये इस बीमारी से बचाव के वास्ते टीके की मात्र एक खुराक ही पर्याप्त है। बता दें कि देश में कोरोना वैक्सीन की कमी सभी राज्यों में देखी जा रही है। इसको लेकर राज्यों ने केंद्र की मोदी सरकार पर दबाब बनाया हुआ है। 

AAP ने लगाए वैक्सीन घोटाले के आरोप, निशाने पर भाजपा सांसद तेजस्वी सूर्या

गौरतलब है कि फिलहाल देश में दो टीकों... कोविशील्ड और कोवैक्सीन को मंजूरी मिली हुई है। कोविड-19 से बचाव के लिए लोगों को दोनों टीकों की दो खुराक लेने की जरूरत है।   

कांग्रेस को नहीं रास आए मोदी सरकार के सात साल, बताया - देश के लिए हानिकारक

  बीएचयू के जूलॉजी विभाग के प्रोफेसर ज्ञानेश्वर चौबे और न्यूरोलॉजी विभाग के प्रोफेसर विजय नाथ मिश्रा की टीम ने अपने अध्ययन के आधार पर दावा किया है कि कोरोना वायरस संक्रमण से मुक्त हो चुके लोगों के शरीर में टीके की पहली खुराक लेने के 10 दिन बाद ही पर्याप्त एंटी बॉडी बन जाती है।

कन्हैया कुमार ने मोदी सरकार के 7 साल होने पर किया कटाक्ष

उनका दावा है कि ऐसे लोगों के लिए टीके की एक खुराक ही पर्याप्त है। प्रोफेसर चौबे ने बताया कि 20 लोगों पर किये गए अध्ययन में यह पता चला है कि संक्रमण से उबर चुके लोगों में एंटी बॉडी तेजी से बनती है, वहीं स्वस्थ लोगों में एंटीबाडी बनने में 3 से 4 हफ्ते का समय लगता है। 

comments

.
.
.
.
.