Monday, Jan 21, 2019

राफेल मामला: हुड्डा ने मोदी सरकार पर बोला हमला, कहा- भाजपा पाक साफ नहीं

  • Updated on 12/21/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने राफेल मामले में मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए शुक्रवार को यहां कहा कि उच्चतम न्यायालय के फैसले से भाजपा खुद को पाक साफ बता रही है लेकिन वास्तव में ऐसा नहीं है। उन्होंने कहा कि न्यायालय ने अपने फैसले में इस सौदे के तकनीकी पहलुओं और विमान की कीमत के बारे में कुछ नहीं कहा है।

कांग्रेस के प्रदेश मुख्यालय में संवाददाताओं से बातचीत में हुड्डा ने कांग्रेस की जेपीसी की मांग दोहराते हुए कहा कि राफेल की खरीद में घोटाले को लेकर सैकडों सवाल उठे हैं और उनके सरकार अब उनके जवाब तलाशने में लगी है। उन्होंने कहा कि इस सौदे में लडाकू विमान को तयशुदा कीमत से तीन गुना अधिक कीमत पर खरीदा गया है। 

पिछले चार सालों में 30 प्रतिशत बढ़ी प्रति व्यक्ति आय- वित्त मंत्रालय

उन्होंने कहा कि संप्रग सरकार ने राफेल विमान की कीमत 526.1 करोड़ रुपये प्रति विमान तय की थी वहीं मौजूदा राजग सरकार ने इसे 1670.7 करोड रुपए प्रति विमान कर दिया। 36 विमानों की कीमत संप्रग सरकार के अनुसार 18940 करोड़ रुपये बनती थी जबकि राजग सरकार ने सौदा 60145 करोड रुपये में किया। इससे देश को 41,205 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है।

हुड्डा ने कहा कि कांग्रेस और देश के लोग यह जानना चाहते हैं कि चंद महीनों में ही विमान की कीमत तीन गुना कैसे हो गई। राफेल विमान के सौदे में सरकार ने ना तो तकनीकी पहलुओं और ना ही कीमत पर कोई विचार किया। उन्होंने कहा कि न्यायालय के निर्णय के पैरा 32 और 33 में कहा गया है कि रिलायंस डिफेंस कंपनी 28 मार्च 2015 में बनी और न्यायालय को बताया गया कि दसॉल्त और रिलायस कंपनी के बीच सौदा 2012 में हो गया था। ऐसे कई विरोधाभासी तथ्य हैं जिनका उत्तर केवल संयुक्त संसदीय समिति ही निकाल सकती है।

दिल्ली HC से कांग्रेस को बड़ा झटका, दो हफ्ते में खाली करना होगा हेराल्ड हाउस

उन्होंने कहा, उच्चतम न्यायालय कीमत और तकनीकी मुद्दे पर नहीं जायेगा तो केवल जेपीसी एक ऐसी संस्था है जो इन मुद्दों का गहराई से अध्ययन कर सकती है। इसमें अगर सरकार दोषी नहीं है... तो सरकार इसकी जेपीसी से जांच कराने से क्यों डरती है। कांग्रेस की मांग है कि जेपीसी का गठन किया जाये और सारे तथ्य सामने आ जायेंगे।

उन्होंने कहा, कांग्रेस का मानना है कि जेपीसी के बिना राफेल घोटाले का सच जनता के सामने नहीं आयेगा। जेपीसी इस मामले से जुडे हर व्यक्ति और दस्तावेज को तलब कर सकती है। यह मुद्दा देश की सुरक्षा से जुडा है और संवेदनशील है। हुड्डा ने आरोप लगाया कि सरकार ने न्यायालय को गुमराह करने के लिये सीएजी संबंधी रिपोर्ट की गलत जानकारी दी।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.