Saturday, Nov 17, 2018

दिवाली पर लगा गधों का मेला, सलमान-शाहरूख की लगती है लाखों में बोली

  • Updated on 11/7/2018

नई दिल्ली/हेमराज कश्यप। त्‍योहारों के मौसम में शाॅपिंग का जलवा रहता है खासकर दीपावली का तो त्योहार ही खरीदारी का माना जाता है। इस दौरान तमाम  तरह के ऑफर और डिस्‍काउंट आपके इंतजार में रहते हैं लेकिन क्या आपने ऐसे बाजार के बारे में सुना है जहां सिर्फ गधे और खच्चर ही होते हैं वो भी इतनी इतनी कीमत के, की आप सुन कर दांतों तले उंगली दबा लें। यहां गधे और खच्चरों की कीमत लाखों में पहुंच जाती है। हालांकि यहां खरीदने वालों के लिए डिस्काउंट भी खूब हैं। 

गधों का यह खास बाजार दिवाली के मौके पर उत्‍तर प्रदेश के चित्रकूट जिले में लगता है जहां आपको गधों की सारी नस्‍ले देखने को मिलेंगी। ऑफर भी होंगे डिस्‍काउंट भी होगा क्‍योंकि आप आम दिनों में नहीं बल्कि दिवाली पर माल खरीदने जो जा रहे हैं। राम की तपोभूमि चित्रकूट में दिवाली पर तीन दिनों तक गधों का ऐतिहासिक मेला लगता है। गधों के इस अनूठे मेले में देश के कोने कोने से ही नहीं विदेश से भी व्यापारी औऱ खरीददार आते हैं। मंदाकिनी के तट पर लगने वाले गधा मेला विभिन्न नस्लों के गधों के लिए दूर.दूर तक जाना जाता है। 

प्रदूषण से बचना है तो ऐसे मनाए दिवाली, हवा नहीं होगी जहरीली

मुगल काल से हुई थी शुरूआत
चित्रकूट में गधा मेला की शुरूआत मुगल काल में हुई थी। अपने सैन्य बल ने घोड़ों की कमी होने पर मुगलसम्राट औरंगजेब ने यहां गधा मेला लगाया था।  जिसमें अफगानिस्तान से बिकने के लिए अच्छी नस्ल के खच्चर लाए गए थे। जिन्हे मुगलसेना में शामिल किया गया था। तब से चली आ रही मेले की यह परंपरा अनवरत आज भी जारी है। 

यहां से आते हैं लोग 
चित्रकूट गधे मेले में खच्चरों व गधों को खरीदने और बेचने के लिए उत्तर प्रदेश मध्यप्रदेश  छत्तीसगढ़  बिहार  झारखंड  महाराष्ट्र  उत्तराखंड और नेपाल देश के विभिन्न जिलों के लोग आते है। 

5 लाख तक लगती है गधों की बोली 
इस मेले में अन्य व्यापारों की तरह गधों की बोली लगाई जाती है। जो भी बोली की रकम अदा करता है उसको गधे खरीदने की इजाजत दी जाती है। एक हजार से लेकर 5 लाख तक यहां बोली लगाई जाती है। 

नाम पर लगती है कीमत 
गधे मेले की शुरुआत नरक चौदस से होती शुरू है। अंतरराज्यीय मेला में गधों के नाम भी व्यापारी बड़े अजीब ढंग से रखते है। गधों के नाम फिल्मी दुनिया के कलाकारों और नेताओं के नाम पर भी रखते हैं जैसे  रौनकए चांदनीए आरजूए महिमाए पारूलए नगीनाए हीना सहित कई ऐसे नाम होते है बीते साल एक फिल्म अभिनेत्री के नाम का गधा सबसे अधिक एक लाख रुपए का बिका था। ऐसे ही सलमान और शाहरूख के नाम से भी यहां गधे लाए जाते है जिनकी कीमत भी उनके नाम के अनुसार लाखों में पहुंच जाती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.