Saturday, Jul 31, 2021
-->
biden-administration-begins-formal-contacts-with-indian-govt-discusses-prsgnt

अमेरिका-भारत के बीच बनेंगे नए रिश्ते! बाइडन प्रशासन की भारत सरकार से हुई सकारात्मक बातचीत

  • Updated on 1/28/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। अमेरिका के 46वें राष्ट्रपति के रूप में शपथ लेने के बाद जो बाइडन (Jo Biden) दुनिया के कई बड़े देशों के साथ बातचीत करने के लिए योजनाबद्ध तरीके से काम कर रहे हैं। इसी क्रम में अमरिकी प्रशासन ने भारत के शीर्ष नेतृत्व के साथ औपचारिक रूप से संपर्क शुरू किया जाने लगा है।

मिल रही जानकारी के अनुसार, अमेरिकी प्रशासन की तरफ से रक्षा मंत्री लॉयड ऑस्टिन और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जैक सुलिवन ने अपने समकक्षों राजनाथ सिंह और अजीत डोभाल के साथ इंडो-पैसिफिक में रक्षा सहयोग और स्थिरता पर बातचीत की है।

किसान हिंसा पर खुलासा- अकाली दल व सुखबीर बादल के इशारे पर हुआ लाल किले पर तांडव

इन मुद्दों पर हुई चर्चा 
बताया जा रहा है कि इन अधिकारियों के बीच टेलीफोन के जरिए बातचीत हुई है जिसमें दोनों पक्षों ने द्विपक्षीय रक्षा सहयोग और रणनीतिक साझेदारी को मजबूत करने के लिए एक साथ काम करने की इच्छा जताई है। इस बारे में रक्षा मंत्रालय ने बयान दिया है जिसमें कहा गया है कि उन्होंने द्विपक्षीय, क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों पर चर्चा की।

वहीँ, विदेश मंत्रालय ने डोभाल और सुलिवन के बीच हुई बातचीत के बाद बताया कि भारत और अमेरिका ने कोरोना माहमारी काल में सामूहिक रूप से चुनौतियों का सामना करने की जरूरतों पर चर्चा की गई। इसके साथ ही दोनों ही बातचीत के दौरान इंडो-पैसिफिक क्षेत्र में आतंकवाद और स्थिरता जैसे प्रमुख मुद्दों पर काफी बातचीत हुई और दोनों पक्ष सहमत हुए। हालांकि, अमेरिकी सरकार की तरफ से अभी कोई आधिकारिक बयान जारी नहीं किया गया है।

Tractor Rally Violence पंजाब कांग्रेस का बड़ा आरोप, कहा- रैली में शामिल थे AAP के सदस्य

दोनों देशों के बीच यह मुद्दे रहे प्रमुख 
विदेश मंत्रालय की तरफ से बताया गया है कि सुलिवन के साथ हुई बातचीत में डोभाल ने कहा कि दो अग्रणी लोकतंत्र वाले देश- भारत और अमेरिका क्षेत्रीय और अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर खुले और समावेशी विश्व व्यवस्था में विश्वास के साथ निकटता से काम करने के लिए तैयार हैं। दोनों के देशों के बीच आतंकवाद, समुद्री सुरक्षा, साइबर सुरक्षा और इंडो-पैसिफिक क्षेत्र में स्थिरता जैसे मामलों पर बात हुई। वहीं, सुलिवन ने भी भारत के साथ काम करने को लेकर उत्सुकता जताई है। 

किसान आंदोलन में हुई हिंसा के लिए BJP ने कांग्रेस को ठहराया जिम्मेदार, बोले- उन्हें उकसाया गया

राजनाथ सिंह ने दोहराया 
जबकि राजनाथ सिंह ने बातचीत के दौरान भारत-अमेरिका रक्षा सहयोग को मजबूत करने और पारस्परिक हित के क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों पर बातचीत करने को दोहराया। इसके अलावा, विदेश मंत्री एस जयशंकर ने दुनिया भर में होने वाले बदलावों के बारे में बात करते हुए कहा कि कहीं भी बदलाव एशिया की तुलना में अधिक तेज गति से नहीं लाए गए हैं। सभी नेताओं ने देशों की गरिमा और पारस्परिक सहयोग को तवज्जों की देने की बात कही। 

पढ़ें अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.