Monday, Aug 08, 2022
-->
bidhuri will keep people''''s issue in the one-day assembly session, session is likely to be uproar

एक दिवसीय विधानसभा सत्र में बिधूड़ी रखेंगे लोगों की बात, सत्र हंगामेदार होने की संभावना

  • Updated on 11/26/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। शुक्रवार को होने वाला एक दिवसीय विधानसभा सत्र हंगामेदार होने की संभावना जताई जा रही है। नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी ने साफ कहा कि भले ही कुछ भी हो वे जनहित की बात को पुरजोर तरीके से विधानसभा में उठाएंगे।

प्रदूषण, किसान, वैट और शराब नीति का भाजपा विधायक करेंगे विरोध 

उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार लोगों से जुड़े मुद्दे पर चर्चा से भाग रही है। जबकि प्रदूषण, नई शराब नीति, वैट और किसानों की समस्या दिल्ली में इस वक्त सबसे ज्वलंत मुद्दा है। जिस पर चर्चा होना आवश्यक है और वे अपने साथी विधायकों के साथ दिल्ली की समस्याओं को जोर शोर से उठाएंगे।

संविधान स्वतंत्रता के साथ कर्तव्यों का बोध भी कराता है: भाजपा 

बिधूड़ी ने बताया कि विपक्ष ने विधानसभा अध्यक्ष को पहले ही मुख्य विषयों के लिए अल्पकालिक चर्चा का नोटिस भी दिया है। उन्होंने कहा कि एक दिन के विशेष अधिवेशन के लिए भाजपा ने भी खास रणनीति तैयार की है। भाजपा विधायकों ने अधिवेशन में जानलेवा प्रदूषण, वैट के कारण महंगा पेट्रोल-डीजल, नई शराब नीति और दिल्ली के किसानों के साथ हो रही ज्यादती के मामले जोर-शोर से उठाने का फैसला किया है।

केजरीवाल सरकार जनता के ज्वलंत मुद्दों का सामना करने से घबरा रही है

नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि केजरीवाल सरकार जनता के ज्वलंत मुद्दों का सामना करने से घबरा रही है, लेकिन विपक्ष इन मुद्दों को जोर शोर से उठाने का फैसला ले चुका है। उन्होंने कहा कि दिल्ली में प्रदूषण के कारण जनता की जान आफत में है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि प्रदूषण से बचने के लिए दिल्ली सरकार ने कोई तैयारी नहीं की।

इसी तरह केंद्र सरकार द्वारा एक्साइज ड्यूटी में कटौती करके पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कमी कर दी है लेकिन दिल्ली सरकार अपने वादे के बावजूद दिल्ली में वैट कम नहीं कर रही। इससे जनता की जेब पर भारी बोझ पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि नई शराब नीति दिल्लीवासियों के लिए घातक है। उन्होंने कहा कि किसानों की फसल बर्बादी के बाद दिल्ली सरकार ने आज तक किसी किसान को मुआवजा नहीं दिया।

 

comments

.
.
.
.
.