Friday, May 27, 2022
-->
big-party-candidates-scared-of-vote-bitter-candidate-faces

वोट कटुआ उम्मीदवार चेहरों से डरे बड़ी पार्टी के प्रत्याशी

  • Updated on 1/23/2022

नई दिल्ली, (टीम डिजिटल):मोदी लहर के बाद 2022 के विधानसभा चुनाव में हार-जीत का मार्जिन कम रहने की गुंजाइश ने ही बड़े प्रत्याशियों के सर्दी में भी पसीना निकाल दिया है। दिल्ली से सटी गौतमबुध नगर की तीन विधान सभा सीट नोएडा, जेवर और दादरी में 52 उम्मीदवार है। इसमे 37 उम्मीदवार ऐसे है जिनके चेहरों से बड़ी पार्टियों के प्रत्याशी डर रहे है। 

प्रदेश में आम बोलचाल की भाषा में हिना निर्दलीय प्रत्याशियों को वोट कटुआ कहते है। ये वोट कटुआ कब किस भर भारी पड़ जाए पता नहीं। यह वह भी है जिनको मजबूत प्रत्याशी को हराने के लिए डमी बनाकर खड़ा किया जाता है। जीतने और जीतकर लोगों की सेवा करने से इनका दूर दूर तक नाता नहीं होता। चुनाव विश्लेष्कों कहते है इस बार ये और इन जैसे नोएडा, जेवर और दादरी विधानसभा सीट से खड़े बड़े प्रत्याशियों के पसीने छुड़ा सकते है। पार्टियों का आकलन है कि चुनावी सभा , रैली पर रोक वर्चुल प्रचार और कोरोना की वजह से यहा 2017 के मुकाबले कम 40 प्रतिशत वोट होने का आकलन है। मार्जिन काफी कम रहेगा।

 

बड़े प्रत्याशियों के वोट कटने की यह होंगी बड़ी वजह

 

हाईराइज सोसायटी में कोरोना इफेक्ट

 

नोएडा के विधानसभा चुनावों में हमेशा बाहरी वर्सेस स्थानीय मुद्दा रहा है। इसका रेशियों 60 और 40 का है। 60 प्रतिशत बाहरी नोएडा की हाईराइज सोसायटी और वीआईपी सेक्टरों में रहते है। नोएडा में कोरोना का इफेक्ट भी इन्ही सोसायटी और सेक्टर में है। यह वे है जिन्होंने दूसरी लहर में अपनों को खोया । कोरोना में इन वोटरों को मतदाता स्थल तक लाना बड़ी चुनौती है। जहा चुनावी माहौल में प्रत्याशी और चुनावी प्रचार कर रहे पांच-पांच लोग भी इन सोसायटी में नहीं पहुंच पा रहे। नोएडा में एटिक्व केस अब भी साढ़े सात हजार से ज्यादा है।

 

वीआईपी कल्चर एक बड़ी वजह

नोएडा सीट वीआईपी कल्चर के लिए जानी जाती है। कई संस्थाओं के आरोप लगते रहे है कि यहा के विधायक से मिलना आसान नहीं है। पांच सालों में वह एक बार भी वह उनसे मिलने नहीं आए। नोएडा में विधायक पंकज सिंह है। उनका सबसे बड़ा वोटर शहरी मतदाता है। लेकिन कोरोना के दूसरी लहर में उनका वीआईपी कल्चर सामने आया और इस वजह से लोग नाराज है।

 

निर्दलीय के साथ संस्थाओं और छोटी पार्टी के प्रत्याशी

नोएडा विधानसभा सीट से 17 उम्मीदवार , दादरी से 11 और जेवर से 9 प्रत्याशी निर्दलीय और छोटी पार्टियों के है। इनमे संस्थाओं के उम्मीदवार भी है। जैसे नोएडा में रेहड़ी पटरी संस्था ने अपना उम्मीदवार और दादरी में बायर्स एसोसिएशन नेफोमा के अध्यक्ष खुद चुनाव में है उनकी संस्था के ही एक लाख सदस्य है और वह बड़ी पार्टियों से खफा भी।

 

एक नजर में मतदाता

नोएडा - 690231

दादरी -586889

जेवर-346425

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.