Monday, Oct 03, 2022
-->
bihar 60 feet long steel bridge stolen in sasaram tejashwi rjd jibe at bjp jdu rkdsnt

बिहार के सासाराम में 60 फुट लंबा स्टील का पुल चोरी, तेजस्वी का BJP-JDU पर तंज

  • Updated on 4/9/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। बिहार के सासाराम जिले में खुद को सरकारी अधिकारी बताने वाले कुछ लोग 60 फुट लंबा इस्पात का पुल खोलकर ले गए। पुलिस ने शनिवार को यह जानकारी दी। पुलिस ने बताया कि 500 टन वजनी इस पुल का निर्माण नसरीगंज थानाक्षेत्र के अमियावर गांव में अर्राह नहर पर 1972 में हुआ था।     

आसाराम के खिलाफ दुष्कर्म मामले की पीड़िता के परिवार ने अपनी सुरक्षा को लेकर जताई चिंता 

उन्होंने बताया कि चोरों के समूह में शामिल लोगों ने खुद को सिंचाई विभाग के अधिकारी बताकर तीन दिन के दौरान खराब पड़े पुल को गैस-कटर और अन्य उपकरणों की मदद से काटकर अलग किया। नसरीगंज थाने के प्रभारी सुभाष कुमार ने कहा कि कुछ संदेह होने पर स्थानीय लोगों ने पुलिस को सूचना दी। हालांकि, तब तक चोर पुल का सामान लेकर फरार हो चुके थे।     

माफी और FIR के बावजूद बजरंग मुनि की सोशल मीडिया पर हो रही खिंचाई

उन्होंने कहा,‘‘ऐसा प्रतीत होता है कि सिंचाई विभाग के स्थानीय अधिकारियों की अनभिज्ञता के चलते इस पूरी घटना को अंजाम दिया जा सका।‘‘कुमार ने कहा कि इस मामले में मुकदमा दर्ज कर घटना को अंजाम देने वालों को पकडऩे के प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि जिले के कबाड़ कारोबारियों को भी सतर्क किया गया है।   

जमानत के लिए जाली दस्तावेज पेश करने को लेकर नारायण साई के खिलाफ मामला दर्ज 

  अमियावर गांव के निवासी मंटू सिंह ने कहा,‘’यह पुल काफी पुराना था और कुछ समय पहले इसे खतरनाक घोषित किया गया था। पुराने पुल के बराबर में ही एक नये पुल का निर्माण किया गया था, जिसका जनता उपयोग कर रही है।‘‘ इस घटना को लेकर राज्य सरकार पर निशाना साधते हुए नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने आरोप लगाया कि चोर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और भाजपा नेताओं से प्ररित थे।

महंगाई ने RBI गवर्नर शक्तिकांत दास के कान खड़े किए, बैकफुट पर आर्थिक वृद्धि

     उन्होंने कहा,‘’यदि भाजपा और नीतीश कुमार बिहार की सरकार को चोरी कर सकते हैं तो पुल क्या है?‘‘      तेजस्वी यादव का इशारा 2017 में राजद से बठबंधन तोड़कर जदयू का भाजपा के साथ मिलकर सरकार बनाने की ओर था। 

comments

.
.
.
.
.