Friday, Sep 30, 2022
-->
bihar-agnipath-protests-led-to-rs-200-cr-damage-50-bogies-burnt-official

Agnipath Protest: बिहार में हिंसक विरोध के कारण 200 करोड़ का नुकसान, 50 बोगियां फूंकी

  • Updated on 6/18/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। केंद्र की 'अग्निपथ' योजना के खिलाफ हुए हिंसक विरोध प्रदर्शन में बिहार में 200 करोड़ रुपये की संपत्ति का नुकसान हुआ है। रेलवे के एक वरिष्ठ अधिकारी ने शनिवार को इसकी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि 'अग्निपथ' सैन्य भर्ती योजना के खिलाफ बिहार में हिंसक विरोध प्रदर्शन ने ₹ 200 करोड़ की संपत्ति को नष्ट कर दिया है और 50 कोच और पांच इंजन पूरी तरह से जल गए हैं।

दानापुर रेल मंडल के मंडल प्रबंधक प्रभात कुमार ने कहा कि प्लेटफॉर्म, कंप्यूटर सिस्टम और अन्य तकनीकी उपकरण भी क्षतिग्रस्त हो गए, क्योंकि शुक्रवार को लगातार तीसरे दिन सैकड़ों लोगों ने इस योजना को वापस लेने की मांग के लिए ट्रेनों और रेलवे स्टेशनों को जला दिया और तोड़फोड़ की।

शुक्रवार को भभुआ रोड, सिधवालिया (गोपालगंज में) और छपरा रेलवे स्टेशनों पर यात्री ट्रेनों के लगभग एक दर्जन डिब्बों में आग लगा दी गई। बरौनी-गोंदिया एक्सप्रेस के तीन डिब्बे जल गए। सीवान जिले में प्रदर्शनकारियों ने एक रेल इंजन में आग लगाने की कोशिश की। विक्रमशिला एक्सप्रेस के तीन AC डिब्बों में तोड़फोड़ की गई।

रेलवे स्टेशन परिसर जैसे आरा जिले में नवनिर्मित प्लेटफॉर्म और मोतिहारी में बापूधाम रेलवे स्टेशन में तोड़फोड़ की गई और नष्ट कर दिया गया। कम से कम एक यात्री को चोटें आई हैं। पूर्व मध्य रेलवे ने कहा कि चार एक्सप्रेस सहित 30 ट्रेनें रद्द कर दी गईं और अन्य कई घंटों की देरी से चलीं। कुछ ट्रेनें भी फंसी रहीं।

पुलिस ने 170 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी भी दर्ज की है और 46 को दानापुर रेलवे स्टेशन में तोड़फोड़ करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। वहीं इस हिंसा की जांच के लिए एक एसआईटी कमेटी बनाने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका भी दायर की गई है। 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.