Thursday, Apr 09, 2020
Bihar assembly elections Demand project Sharad yadav as RJD adamant on Tejashwi yadav

बिहार में शरद को सीएम प्रोजेक्ट करने की मांग, RJD तेजस्वी पर अड़ी

  • Updated on 2/20/2020

नई दिल्ली / टीम डिजिटल। इसी साल अक्टूबर नवम्बर में संभावित विधानसभा चुनाव को देखते हुए बिहार में विपक्षी दल लालू प्रसाद (Lalu Yadav) के नेतृत्व वाले राजद की अगुआई में गठबंधन करके चुनाव लड़ेंगे। इस गठबंधन में शामिल गैर कांग्रेसी दल राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा), विकासशील इन्सान पार्टी (VIP) और हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा-सेक्युलर (हम) गठबंधन की ओर से मुख्यमंत्री पद के लिए लालू प्रसाद के बेटे तेजस्वी यादव के स्थान पर शरद यादव ( Sharad Yadav) को प्रोजेक्ट करने की चर्चा उठाते रहे हैं। राजद नेता इसे कुछ लोगों की चाल बताते हैं जिसे वे किसी तरह पूरा नहीं होने देंगे। इस बीच तेजस्वी यादव ने 23 फरवरी से प्रदेश व्यापी बेरोजगारी हटाओ यात्रा शुरु करने जा रहे हैं। 

चिन्मयानंद को जमानत देने के खिलाफ याचिका पर सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट
 
72 साल के शरद यादव राजनीति के पुराने खिलाड़ी हैं। वे सात बार रह चुके हैं। मुख्यमंत्री पद के लिए उनका नाम  सिर्फ कुछ लोगों द्वारा इसलिए उछाला जा रहा है कि वे इसके माध्यम से तेजस्वी के नेतृत्व से हटाने का मुद्दा आगे ला सकें। आरएलएसपी प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा, हम के नेता जीतनराम मांझी और वीआईपी अध्यक्ष मुकेश साहनी का मानना है कि तेजस्वी यादव के नेतृत्व में भरोसे कासंकट है। वे भाजपा-जद (यू) गठबंधन के अगुवा नीतीश कुमार के सामने गंभीर चुनौती पेश करने में सक्षम नहीं होंगे। इन तीनों दलों के नेताओं ने शरद यादव से भी मुलाकात की है। 

#CAAProtests: सामाजिक कार्यकर्ता बोले- रिकवरी नोटिस पर मिला तो देंगे कोर्ट में चुनौती

आरएलएसपी प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा ने कहा, ‘लालू प्रसाद की अनुपस्थिति में विपक्ष नेतृत्व संकट से ग्रसित है। अगर शरद जी को गठबंधन का चेहरा माना जाता है तो यह फायदेमंद होगा।’ वहीं साहनी ने कहा, ‘शरद-जी एक आदर्श विकल्प होंगे।’ शरद ने खुद कहा, ‘मैं अपनी सेवाओं की पेशकश करने और मुझे जो भी जिम्मेदारियां सौंपी गई हैं, उन्हें निभाने के लिए तैयार हूं।’ 

सुब्रह्मण्यम स्वामी ने मोदी सरकार पर ही उठाए सवाल, #GST को बताया पागलपन

राजद के प्रवक्ता और राज्यसभा सांसद मनोज झा ने इन अटकलों को खारिज करते हुए कहा, ‘तेजस्वी का कोई विकल्प नहीं है’, जबकि राजद के उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह ने संकेत दिया कि तेजस्वी सीएम उम्मीदवार के लिए एक स्पष्ट पसंद हैं। कांग्रेस के प्रवक्ता राजेश राठौर ने कहा ‘नेतृत्व का प्रश्न सभी घटकों द्वारा एक उचित समय पर संयुक्त रूप से तय किया जाएगा। तब तक, लोग अपनी राय व्यक्त करने के लिए स्वतंत्र हैं।’

चुनावी हलफनामा मामले में फडणवीस की कोर्ट में पेशी, जमानत मिली

comments

.
.
.
.
.