Friday, Jan 28, 2022
-->
bihar elections 2020 bihar assembly elections nityanand rai terrorists in kashmir  sohsnt

Bihar Elections 2020: केंद्रीय मंत्री बोले- RJD की सरकार बनी तो कश्मीर से आतंकी बिहार में लेंगे शरण

  • Updated on 10/14/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar assembly elections) की तारीखों के नजदीक आते ही राज्य में नेताओं के बीच राजनीतिक आरोप-प्रत्यारोपों का दौर शुरू हो गया है। राज्य में इन दिनों भारत-चीन सीमा विवाद, पाकिस्तान सीमा विवाद और कश्मीर में आतंकियों की अवैध घुसपैठ जैसे मुद्दे जोरों पर हैं। ऐसे में केन्द्रीय गृहराज्य मंत्री नित्यानंद राय (Nityanand Rai) ने राजद (RJD) पर निशाना साधते हुए एक गंभीर आरोप लगाया है। 

दिल्ली: चीनी दूतावास के बाहर लगा पोस्टर, 'डीयर चीन फारुक अब्दुल्ला को गोद ले लो'

नित्यानंद राय ने लगाया ये आरोप 
महनार से जदयू प्रत्याशी के नामांकन के बाद हुई सभा में केन्द्रीय गृहराज्य मंत्री नित्यानंद राय ने राजद पर एक के बाद एक कई गंभीर आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि सत्ता के लिए वे (राजद) किसी से भी हद तक जा सकते हैं और कोई भी समझौता कर सकते हैं। नित्यानंद राय यहीं तक नहीं रुके उन्होंने आगे कहा कि अगर बिहार में राजद की सरकार बनेगी, तो कश्मीर के आतंकवादी बिहार की ओर रुख करेंगे।  

केजरीवाल मामला : लोक अभियोजक ने DIG पर लगाया घूंसा मारने का आरोप, CBI जांच शुरू

आतंकवादी बिहारी में लेंगे शरण-नित्यानंद
उन्होंने संबोधन के दौरान आगे कहा कि बिहार में अगर आरजेडी सत्ता में आती है तब जिस आतंकवाद को सरकार कश्मीर से खत्म कर रही है। वही आतंकवादी बिहारी में शरण लेंगे। उन्होंने कहा कि आतंकवाद को जड़ से खत्म करने की मंशा से काम करने वाली हमारी सरकार ऐसा हरगिज नहीं होने देगी।  

रेलवे 20 अक्टूबर से 30 नवंबर के बीच 392 पर्व विशेष ट्रेनें चलाएगा 

सत्ता के लालची लोग कुछ भी करा सकते हैं-नित्यानंद
केन्द्रीय गृहराज्य मंत्री ने आगे कहा कि पीएम नरेन्द्र मोदी ने सीमा की जिम्मेदारी हमें सौंपी है, गृहमंत्री ने सीमा हमारे जिम्मे सौंपी है। ऐसे में हम आतंकियों के इन मंसूबों को किसी भी कीमत पर कामयाब नहीं होने देंगे, लेकिन सत्ता के लालची लोग के चलते कुछ भी संभव हो सकता है। ये लोग सत्ता के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं।

केजरीवाल सरकार ने हिंदूराव को कोविड-19 अस्पतालों की लिस्ट से हटाया

सीमा पर जवान हर परिस्थिति से निपटने के लिए हैं तैयार
उन्होंने कहा, हम तलवार से भी लड़ते हैं और हाथ से भी लड़ते हैं। भारतीय सेना सीमा की सुरक्षा हथियार से करना जानती है और हाथ से भी। मंत्री ने हाल में पूर्वी लद्दाख में भारत-चीन के सैनिकों के बीच हुई हिंसक झड़प की बात करते हुए कहा, हमारी सेना पर जब हथियार चलाने की पाबंदी लगी थी, तो हाथ को हथियार बनाकर उसने चीन को माकूल जवाब दिया था।

comments

.
.
.
.
.