Wednesday, May 12, 2021
-->
bihar elections congress manifesto promise of 10 million jobs farm loan waiver rkdsnt

बिहार चुनाव: कांग्रेस का घोषणापत्र जारी, 10 लाख नौकरियां देने, कृषि कर्ज माफी का वादा

  • Updated on 10/21/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। कांग्रेस ने बुधवार को बिहार विधानसभा चुनाव के लिये पार्टी का घोषणापत्र जारी किया। कांग्रेस ने घोषणापत्र में 10 लाख नौकरियां, कृषि कर्ज माफी, 1500 रूपये बेरोजगारी भत्ता, बिजली बिल में 50 प्रतिशत छूट और हाल ही में असतित्व में आए तीन कृषि कानूनों को समाप्त करने सहित कई लुभावने वादे किये हैं।

हाथरस बलात्कार मामला : CBI की पूछताछ के बाद डॉक्टरों को हटाए जाने पर विवाद

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राज बब्बर ने प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय सदाकत आश्रम में पार्टी का घोषणापत्र ‘बदलाव पत्र 2020’ जारी किया। इस दौरान कांग्रेस महासचिव रणदीप सिंह सुरजेवाला, बिहार प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल, तारिक अनवर सहित कई वरिष्ठ नेता मौजूद थे। बिहार की 243 सदस्यीय विधानसभा के लिये हो रहे चुनाव में कांग्रेस विपक्षी महागठबंधन में सीटों की साझेदारी के तहत 70 विधानसभा क्षेत्रों में चुनाव लड़ रही है। जबकि राजद 144 सीटों, भाकपा माले 19 सीट, भाकपा छह सीट और माकपा चार सीट पर चुनाव लड़ रही है । 

मुख्य सचिव हमला मामला : हाई कोर्ट ने निचली अदालत के फैसले को रद्द किया

इस अवसर पर राज बब्बर ने कहा, ‘‘ 10 लाख लोगों को सरकरी नौकरी देने का निर्णय महागठबंधन की सरकार बनने पर पहली कैबिनेट बैठक में लिया जायेगा । जो लोग इसकी हंसी उड़ा रहे हैं, वे खुद हंसी के पात्र बन जायेंगे । ’’ उन्होंने कहा कि जिन लोगों को रोजगार नहीं मिल सकेगा, उन्हें 1500 रूपये का बेरोजगारी भत्ता दिया जायेगा। राज बब्बर ने कहा कि नीतीश कुमार चार बार मुख्यमंत्री बने, लेकिन उन्होंने युवाओं को धोखा देने का काम किया जबकि 4.5 लाख नौकरियां आसानी से दी जा सकती थी। 

कुमार विश्वास ने चुनाव आयोग के कोविड निर्देश का उड़ाया मजाक

वहीं, कांग्रेस महासचिव रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि बिहार रोकागार, औद्योगिक तरक्की, फसल के दाम, शिक्षा व स्वास्थ्य में तरक्की, पेयजल व सस्ती बिजली का अधिकार चाहता है । उन्होंने कहा कि बिहार अपराधियों की सरपरस्ती से मुक्ति और बदहाली की कांजीरों को तोडऩा चाहता है । बिहार में शराबबंदी पर सवाल उठाते हुए कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया कि राज्य में शराब माफिया को जदयू-भाजपा सरकार के साथ मिलीभगत की वजह से पूरी छूट मिली है। उन्होंने आरोप लगाया कि शराब माफिया को नीतीश बाबू की सरकार का संरक्षण है और वे इनकी छत्रछाया में पनप रहे है। 

SEBI ने किसानों, कृषक उत्पादक संगठनों के कोष को लेकर जारी किए दिशानिर्देश

कांग्रेस के घोषणापत्र में कई बातें महागठबंधन के सहयोगियों से मिलती जुलती हैं। इनमें 10 लाख लोगों को नौकरियां देना और कृषि कर्ज माफी का वादा शामिल है । कांग्रेस नेताओं ने कहा कि महागठबंधन की सरकार बनने पर विधानसभा के पहले सत्र में हाल ही में बनाये गए कृषि संबंधी तीन कानूनों को समाप्त करने का विधेयक पारित किया जायेगा । कांग्रेस नेता शक्ति सिंह गोहिल ने इस संबंध में पंजाब का उदाहरण दिया जहां ऐसा हुआ है । बिहार के लिये कांग्रेस के घोषणापत्र में दो एकड़ से कम जोत वाले किसानों की मदद के लिये ‘राजीव गांधी कृषि न्याय योजना’ शुरू करने की बात कही गई है।

कृषि संबंधी नए कानून : अरविंद केजरीवाल ने पंजाब के सीएम अमरिंदर पर किया पलटवार

 

 

 

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें...

 

comments

.
.
.
.
.