Wednesday, Sep 18, 2019
Bihar politics over next CM from BJP

बिहार : ‘अगला सीएम भाजपा से’ पर गरमाई सियासत

  • Updated on 9/11/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। बिहार (Bihar) का अगला मुख्यमंत्री (Chief minister) नीतीश कुमार (Nitish kumar) के बजाय भाजपा (Bjp) से होने के पार्टी के एक वरिष्ठ नेता के जोर देने पर राज्य (State) में सियासत गरमा गई है। मुख्यमंत्री पद पर नीतीश का यह तीसरा कार्यकाल है। भाजपा के विधान परिषद सदस्य संजय पासवान (Sanjay paswan) ने इस बात पर जोर देने की कोशिश की कि जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष (नीतीश कुमार) के प्रति उनके मन में असम्मान की भावना नहीं है।

कुलभूषण से मुलाकात के बाद विदेश मंत्रालय ने कहा, उन पर है भारी दवाब

लेकिन इस बात का जिक्र किया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) के नाम पर ही राजग के सभी घटक दलों को वोट मिले थे। पासवान ने सोमवार को कहा था कि लगातार तीन कार्यकाल तक हम (भाजपा) नीतीश कुमार के लिए खड़े रहे। समय आ गया है कि वह बदले में भाजपा को एक मौका दें। लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections) से साबित हो गया है कि उन्हें भी वोट पाने के लिए नरेंद्र मोदी (Narendra modi) की जरूरत है।

INX मीडिया केस: चिदंबरम को SC से बड़ा झटका, अग्रिम जमानत खारिज, ED कर सकती है गिरफ्तार

यह पूछे जाने पर कि वह भाजपा से किसे मुख्यमंत्री के तौर पर देखना चाहेंगे, पासवान ने कहा कि यह (उपमुख्यमंत्री) सुशील कुमार मोदी, (भाजपा प्रदेश अध्यक्ष एवं केंद्रीय मंत्री) नित्यानंद राय (Nityanand rai) हो सकते हैं या भाजपा नेतृत्व जिन्हें उपयुक्त समझे। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार लंबे समय तक राज्य की सेवा कर चुके हैं। वह अब केंद्र जा सकते हैं और बिहार  (Bihar) की राजनीति को जदयू की दूसरी पंक्ति के नेताओं के लिए छोड़ सकते हैं। उन्होंने कहा, ‘यह मेरी निजी राय है।’ जदयू महासचिव के.सी. त्यागी, राज्य के मंत्री और विधानसभा में उप नेता श्याम रजक और प्रदेश प्रवक्ता संजय सिंह ने पासवान की आलोचना की।

आर्थिक मंदी: BJP पर प्रियंका का एक और वार, कहा- ऐसे हालात में सरकार की खामोशी खतरनाक

क्या मुख्यमंत्री भाजपाइयों की बात का खंडन करने का माद्दा रखते हैं? क्या यह सच नहीं है कि आदरणीय नीतीश जी ने मोदी जी के नाम पर वोट मांग कर अपना घोषणा पत्र जारी किए बिना ही भाजपा के घोषणा पत्र पर 16 सांसद बना लिए? क्या यह यथार्थ नहीं है कि हरेक विधेयक पर वो भाजपा का समर्थन कर रहे हैं? फिर वो अलग कैसे?   -तेजस्वी यादव, राजद नेता  

बिहार में भाजपा सुनियोजित तरीके से नीतीश कुमार से छुटकारा पाने हेतु करवा रही है मुख्यमंत्री के विरुद्ध अपमानजनक बयानबाजी। हालांकि, ये उनका आंतरिक मामला है लेकिन इस स्थिति के लिए नीतीश जी क्या स्वयं नही हैं जिम्मेदार? भस्मासुर तो उन्होंने ही पैदा किया है।’  -प्रेमचंद्र मिश्रा, कांग्रेस नेता

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.