Tuesday, Jun 22, 2021
-->
bihar rjd leader shyam rajak big claim 17 jdu mlas will leave party djsgnt

बिहार: हलचल तेज! RJD का बड़ा दावा- जदयू के 17 विधायक छोड़ेंगे पार्टी

  • Updated on 12/30/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। कोरोना संकट के बीच बिहार की राजनीति एक बार फिर गरमा गई है। राजद नेता श्याम रजक ने कहा कि जदयू के विधायक बीजेपी की कार्यशैली से नाराज चल रहे हैं। उन्होंने दावा किया कि बिहार की एनडीए सरकार को जदयू विधायक गिराना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि जदयू के 17 विधायक राजेडी के संपर्क में हैं और ये जल्द ही पार्टी की सदस्यता लेंगे।

दबाव बना रही है बीजेपी
गौरतलब है कि बिहार (Bihar) में नई सरकार बनने के बाद कैबिनेट का विस्तार भी नहीं हुआ है। इसी बीच आरजेडी (RJD) ने जेडीयू (JDU) सरकार को गिराने का प्रस्ताव दिया है। बता दें बेशक बीजेपी (BJP) ने ज्यादा सीटें जीतने के बाद जेडीयू को सरकार बनाने दिया है। साथ ही साथ कम सीटों होने के बाद भी नीतीश कुमार (Nitish kumar) को मुख्यमंत्री बनाया हो। मगर फिर भी दूसरी तरफ बीजेपी जेडीयू पर अंदरखाने दबाव बना रही है।  

पत्नी को नोटिस मिलने पर संजय राउत के तेवर हुए तल्ख, BJP पर फोड़ा इसका ठीकरा

बिहार की राजनीति में गर्माहट आई
बता दें हाल में अरुणाचल में बीजेपी ने जेडीयू से एक विधायक तोड़कर अपनी पार्टी में शामिल किया था। जिसके बाद बिहार की राजनीति में फिर से गर्माहट देखने को मिल रही है। लोगों को यह समझ आने लगा है कि बीजेपी और जेडीयू में सब कुछ सही नहीं चल रहा है। इसी का फायदा उठाते हुए आरजेडी ने नीतीश कुमार को ऑफर दिया है।

 पत्नी को नोटिस मिलने पर संजय राउत के तेवर हुए तल्ख, BJP पर फोड़ा इसका ठीकरा 

नीतीश को पीएम का दिया ऑफर
आरजेडी की तरफ से वरिष्ठ नेता और पूर्व विधानसभा स्पीकर उदय नारायण ने कहा है कि अगर नीतीश कुमार तेजस्वी यादव को मुख्यमंत्री बनने तो वह लोकसभा चुनावों में पूरा विपक्ष उनको प्रधानमंत्री उम्मीवार बनाने के लिए तैयार है। वह कहते हैं कि 2024 के विधानसभा चुनावों में विपक्ष उनको समर्थन देने को तैयार है। 

दिल्ली में अगले 4 दिन में कंपाएगी शीतलहर, मनाली में मॉस्को से ज्यादा सर्दी

बीजेपी ने जीती 75 सीटें
बता दें आरजेडी ने उम्मीद नहीं छोड़ी है। बिहार विधानसभा चुनावों में उसे 243 में से 74 सीटों पर जीत मिली है। जबकि एनडीए को गठबंधन में 125 सीटें मिली थी। इसमें सबसे बड़ी पार्टी के रुप में बीजेपी ने 75 सीटें हांसिल की। वहीं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी को मात्र 43 सीटों ही हांसिल हुई थी। इसके बावजूद भी बाजेपी ने सीएम नीतीश कुमार को राज्य के मुख्यमंत्री का पद सौप दिया। लेकिन अब यह बात सामने आ रही है कि बीजेपी अंदरखाने नीतीश कुमार पर दबाव बना रही है ताकि किसी तरह से जेडीयू को दबाव बढ़ाया जा सके। 

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.