Wednesday, Apr 08, 2020
birthday special happy birthday saina nehwal

B'day SPL: बैडमिंटन कोर्ट से सियासी मैदान में कदम रखने वाली नेहवाल ऐसे ही नहीं बनीं नं 1 खिलाड़ी!

  • Updated on 3/16/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। भारत की स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल (Saina Nehwal) का आज जन्मदिन है। भारत ही नहीं बल्कि दुनिया में बैडमिंटन (Badminton) की पर्याय बन चुकीं नेहवाल किसी पहचान की मोहताज नहीं है। वे दुनियाभर में तमाम पदक पुरस्कार जीतकर भारत को गौरवांवित करती रहीं हैं। हाल ही में उन्होंने सत्ताधारी दल भारतीय जनता पार्टी (Bhartiya Janta Party) ज्वाइंन कर सियासी मैदान में भी उतरने का फैसला किया है।

कोरोना के कारण क्रिकेट प्रभावित होने पर रोहित शर्मा ने जताया दुख

Haryana

हरियाणा की बेटी हैं साइना
हरियाणा (Haryana) के हिसार में जन्मीं साइना नेहवाल ने अपने जीवन में कई उतार चढ़ाव देखे। वे अपने छात्रावस्था से ही पढ़ाई के साथ-साथ खेल में भी अव्वल रहती थीं। उन्होंने पढ़ाई के दौरान ही कराटे सीखे और उन्हें इसमें ब्राउन बेल्ट भी मिला हुआ है। उन्हें बचपन से ही बैडमिंटन खेलने में रुची रहती थी। आइए जानते हैं उनके बैडमिंटन कैरियर से जुड़ी कुछ शानदार उपलब्धियों के बारे में...

Saina

  • 2008 में ‘इंडियन नेशनल बैडमिंटन चैम्पियनशिप’, ‘कॉमनवेल्थ यूथ गेम्स’ और ‘चायनीस टेपी ओपन ग्रांड प्रिक्स गोल्ड’ में भी जीत हासिल की।

  • साल 2009 में दुनिया की सबसे प्रमुख बैडमिंटन सीरीज 'इंडोनेशिया ओपन' (Indonesia Open) का खिताब जीता और वे इस खिताब को जीतने वाली भारत की पहली खिलाड़ी बनीं।

  • 2010 में सिंगापुर ओपन सीरीज, इंडिया ओपन ग्रांड प्रिक्स गोल्ड, हांगकांग सुपर सीरीज एवं इंडोनेशिया ओपन सुपर सीरीज जैसे बड़े टूर्नामेंट में जीत हासिल की।

  • 2011 में स्विस ओपन ग्रांड प्रिक्स गोल्ड, इंडोनेशिया ओपन सुपर सीरीज प्रीमियर, मलेशिया ओपन ग्रांड प्रिक्स गोल्ड जैसे बड़े टूर्नामेंट में जीत का परचम लहराया।

  • 2012 में तीसरी बार इण्डोनेशियाई ओपन सुपर सीरीज प्रीमियर का खिताब अपने नाम किया।

  • 2014 में पीवी सिंधु को हराकर इंडिया ओपन ग्रांड प्रिक्स गोल्ड टूर्नामेंट महिला एकल में जीत हासिल कर वर्ल्ड चैंपियनशिप जीती।

Navodaya 2

  • 2015 में साइना ने इंडिया ओपन बीडब्लयू सुपर सीरीज में सिंगल्स खिताब जीता।

  • 2015 में ही हुई ऑल इंग्लैंड बैडमिंटन ओपन चैम्पियनशिप में साइना फाइनल में पहुंचने वाली पहली भारतीय महिला बनीं।

  • साइना का साल 2017 बेहद चुनौतीपूर्ण रहा। इस साल वे अपने चोट लगने की वजह से कई बड़े टूर्नामेंट में हिस्सा नहीं ले सकीं। 

  • 2017 में वर्ल्ड बैडमिंटन चैम्पियनशिप में सेमीफाइनल (Semi final) तक पहुंचीं लेकिन इस टूर्नामेंट में उन्हें जापान की बैडमिंटन खिलाड़ी नोजोमी ओकूहारा से हार का सामना करना पड़ा।

  • 2017 में 82वें नेशनल बैडमिंटन चैंपियनशिप में पीवी सिंधू (PV Sindhu) को हराकर जीत दर्ज की।

  • 2019 में इंडोनेशिया मास्टर्स के वीमेंस सिंगल्स का खिताब अपने नाम किया।

 

comments

.
.
.
.
.