Saturday, Mar 06, 2021
-->
bjp celebrate and burn an effigy of coronavirus in mumbai covid-19 vaccination pragnt

वैक्सीनेशन की शुरुआत के बाद लोगों में उत्साह, कोरोना वायरस का जलाया पुतला

  • Updated on 1/16/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कोरोना वायरस (Coronavirus) के खिलाफ देश भर में आज से दुनिया का अब तक का सबसे बड़ा टीकाकरण शुरू हो गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने वीडियो कॉन्फ्रेस के जरिए कोरोना वैक्सीनेशन की शुरुआत की। इसके बाद देश के विभिन्न हिस्सों में कोरोना का टीका लगना शुरू हो गया है। इसी तरह महाराष्ट्र (Maharashtra) में भी आज टीकाकरण अभियान शुरू हो गया है।

महाराष्ट्र में वैक्सीनेशन शुरू होने के बाद लोगों में काफी उत्साह देखा गया। मुंबई के घाटकोपर इलाके में बीजेपी कार्यकर्ताओं ने वैक्सीनेशन की खुशी में कोरोनो वायरस का पुतला जलाया। 

आज से टीकाकरण शुरू, CM योगी ने कहा- नंबर आने पर लगवाऊंगा कोरोना का टीका

महाराष्ट्र में टीकाकरण अभियान शुरू
बता दें कि देश के बाकी राज्यों के साथ ही महाराष्ट्र में भी आज टीकाकरण अभियान शुरू हो गया है। मुंबई में जेजे अस्पातल के डीन डॉक्टर रंजीत मानकेश्वर और जालना सिविल अस्पताल की डॉक्टर पद्मजा सराफ सबसे पहले टीका लगवाने वालों में शामिल रहे। एक अधिकारी ने बताया कि महाराष्ट्र के 285 केंद्रों में टीके लगाए जा रहे हैं, जहां एक दिन में 100 स्वास्थ्य र्किमयों को टीके लगाए जाएंगे। कुल मिलाकर दिनभर में 28,500 र्किमयों को टीके की खुराक दी जाएगी।

अधिकारी ने बताया कि महाराष्ट्र को 'कोविशील्ड' टीके की 9.63 लाख जबकि 'कोवैक्सीन' टीके की 20 हजार खुराकें मिली हैं, जिन्हें सभी जिलों में वितरित किया गया है। डॉक्टरों ने कहा कि मुंबई के जेजे अस्पताल में एक डॉक्टर की आंखों में शनिवार को एलर्जी हो गई, लिहाजा उन्होंने टीके की खुराक नहीं ली। हालांकि इसका टीके से कोई संबंध नहीं है। 

वैक्सीन को लेकर विशेषज्ञों की चेतावनी- Vaccination के लिए नशा करें बंद

टीकाकरण आज से
भारत में पहले दिन तीन लाख से ज्यादा स्वास्थ्यकर्मियों को कोविड-19 के टीके की खुराक दिए जाने के साथ शनिवार को दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान शुरू हो गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए दिन में साढ़े दस बजे देश में पहले चरण के कोविड-19 टीकाकरण अभियान की शुरुआत की। पूरे देश में एक साथ टीकाकरण अभियान की शुरुआत हुई है और सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में इसके लिए कुल 3006 टीकाकरण केंद्र बनाए गए हैं।  

चरक पालिका अस्पताल पहुंची 1 हजार डोज कोविशिल्ड, कल से शुरू होगा टीकाकरण

1.65 करोड़ खुराकों का आवंटन
'कोविशील्ड' और 'कोवैक्सीन' की 1.65 करोड़ खुराकों में से सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को डाटाबेस में उपलब्ध स्वास्थ्यकर्मियों की संख्या के हिसाब से टीकों का आवंटन कर दिया गया है। राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को 10 प्रतिशत खुराकों को सुरक्षित रखने और एक दिन में एक सत्र में 100 लोगों के टीकाकरण के लिए कहा गया है। 

राजस्थान: सरकार ने नाइट कर्फ्यू की बढ़ाई अवधि, अगले आदेश तक जारी रहेंगी पाबंदियां

1075 कॉल सेंटर
कोविड-19 महामारी, टीकाकरण की शुरुआत और कोविन सॉफ्टवेयर के संबंध सवालों के जवाब के लिए एक कॉल सेंटर-1075 भी बनाया गया है। सरकार के मुताबिक, सबसे पहले एक करोड़ स्वास्थ्यकर्मियों, अग्रिम मोर्चे पर काम करने वाले करीब दो करोड़ कर्मियों और फिर 50 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को टीके की खुराक दी जाएगी। बाद के चरण में गंभीर रूप से बीमार 50 साल से कम उम्र के लोगों का टीकाकरण होगा। स्वास्थ्यकर्मियों और अग्रिम र्किमयों पर टीकाकरण का खर्च सरकार वहन करेगी। सारे राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों ने टीकाकरण के लिए तैयारियां पूरी कर ली है। 

ये भी पढ़ें:

comments

.
.
.
.
.