Wednesday, Jun 29, 2022
-->
bjp-congress-target-kejriwal-aap-over-delhi-punjab-agreement-rkdsnt

दिल्ली-पंजाब समझौते को लेकर भाजपा, कांग्रेस ने केजरीवाल पर साधा निशाना 

  • Updated on 4/26/2022

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। दिल्ली और पंजाब के बीच हुए ‘ज्ञान आदान-प्रदान समझौते’ को लेकर विपक्षी दलों भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कांग्रेस ने मंगलवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधा तथा आरोप लगाया कि यह राष्ट्रीय राजधानी से पंजाब की आम आदमी पार्टी सरकार को 'नियंत्रित' करने का उनका तरीका है। 

‘धर्म संसद’ को लेकर सुप्रीम कोर्ट का उत्तराखंड सरकार को सख्त निर्देश 

  •  

राजद्रोह मामला : राणा दंपति की जमानत याचिका पर सुनवाई 29 अप्रैल को

दोनों राज्यों के बीच के समझौते पर केजरीवाल और पंजाब में उनके समकक्ष भगवंत मान ने हस्ताक्षर किए।     भाजपा नेता मनजिंदर सिंह सिरसा ने आरोप लगाया कि इस समझौता का मकसद केजरीवाल को पंजाब की नौकरशाही को 'नियंत्रित' करने में सक्षम बनाना है।     उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘पंजाब और दिल्ली सरकार के बीच यह समझौता पंजाब के हितों और संप्रभुता को अरविंद केजरीवाल के पास गिरवी रखने से कम नहीं है। केजरीवाल जी... पंजाब को नियंत्रित करने और जब्त करने का ईस्ट इंडिया कंपनी जैसा आपका एजेंडा पंजाबियों को स्वीकार्य नहीं है! मुख्यमंत्री भगवंत मान, हम आपसे आग्रह करते हैं कि आत्मसमर्पण नहीं करें।’’

केजरीवाल के घर के बाहर तोड़फोड़ मामले में तेजस्वी सूर्या को दिल्ली पुलिस का नोटिस 

 दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष अनिल कुमार ने आरोप लगाया कि यह समझौता 'पंजाब सरकार को असंवैधानिक तरीके से रिमोट (से) कंट्रोल करने का केजरीवाल का ‘कुटिल’ तरीका है।' कुमार ने दावा किया कि केजरीवाल द्वारा राज्य के मुख्य सचिव सहित पंजाब के विभिन्न वरिष्ठ अधिकारियों से मुलाकात की हाल की घटना ने पंजाब के मुख्यमंत्री की शक्तियों को कमतर बनाया है। 

गाजीपुर लैंडफिल के बाद भलस्वा लैंडफिल स्थल पर लगी आग, AAP का BJP पर हमला

कुमार विश्वास ने FIR रद्द करने के लिए हरियाणा हाई कोर्ट से लगाई गुहार

भाजपा सदस्य और दिल्ली विधानसभा में विपक्ष के नेता रामवीर सिंह बिधूड़ी ने समझौते की निंदा करते हुए कहा कि केजरीवाल दिल्ली में बैठकर पंजाब पर शासन करना चाहते हैं। उन्होंने आरोप लगाया,‘‘इस समझौते के नाम पर केजरीवाल अब पंजाब के मंत्रियों और अधिकारियों को तलब करेंगे तथा दिल्ली से राज्य की सरकार चलाएंगे। यह पंजाब के मुख्यमंत्री को कठपुतली बना देगा।‘‘ 

जिग्नेश मेवानी को मारपीट से संबंधित मामले में 5 दिन की पुलिस हिरासत

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.