Thursday, Aug 11, 2022
-->
bjp-government-claims-wrongdoing-8-8-million-taxpayers-do-not-pay-tax

नोटबंदी को लेकर सरकार का दावा गलत, 88 लाख करदाताओं ने नहीं भरा टैक्स

  • Updated on 5/9/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। नोटबंदी को लेकर मोदी सरकार हमेशा यह  दावा करती रही है कि  उसने वित्त वर्ष 2016-17 में 1.06 करोड़ नए करदाताओं को जोड़ा। सरकार के दावे के मुताबिक यह आंकड़ा 2015-16 वित्त वर्ष से 25 फीसदी अधिक है। लेकिन नए आंकड़ों से यह खुलासा हुआ है कि रिटर्न फाइल न करने वालों की संख्या 2015-16 के मुकाबले 8.55 लाख से 10 गुना बढ़कर 88.04 लाख हो गई है।

शिवराज का दावा : मप्र को अपने मामा की कमी खल रही है

मालूम हो कि मोदी जी अपनी प्रत्येक रैली में यह कहते हुए नजर आते हैं कि उनकी सरकार ने लगभग 1 करोड़ नए करदाताओं को जोड़ा है। जबकि नए आंकड़े कुछ और ही बयां कर रहे हैं। नए आंकड़ों के मुताबिक 2016-17 में रिटर्न फाइल न करने वालों की संख्या 2015-16 के मुकाबले 8.56 लाख से 10 गुना बढ़कर 88.04 लाख हो गई।

कुछ लोगों के प्रभाव में आकर बोफोर्स घोटाले में शामिल हुए थे राजीव- सत्यपाल मलिक

एक अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक स्टॉप फाइलर्स (स्टॉप फाइलर्स वे लोग होते हैं जो पहले रिटर्न फाइल करते रहे हैं, लेकिन मौजूदा वर्ष में नहीं कर रहे हैं, हालांकि वे रिटर्न भरने के लिए बाध्य हैं।) की संख्या तकरीबन दो दशक में सबसे ज्यादा है। रिपोर्ट में यह भी कहा गया है स्टॉफ फाइलर्स की संख्या 2013 से लगातार घट रही थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.