Sunday, Sep 26, 2021
-->
bjp jp nadda on agriculture bills said farmers got freedom after 70 years pragnt

Agriculture Bills: जेपी नड्डा का कांग्रेस पर हमला, कहा- 70 साल बाद मिली किसानों को आजादी

  • Updated on 9/20/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। राज्यसभा (Rajya Sabha) में कृषि बिल पास होने के बाद बीजेपी (BJP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) ने खुशी जताते हुए कहा कि 70 साल बाद अब किसान बिचौलियों के चंगुल से मुक्त होंगे। इसके साथ ही नड्डा ने कांग्रेस (Congress) पर जमकर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के दोहरे चरित्र से किसान वाकिफ हैं, वे अब उसके बहकावे में आने वाले नहीं हैं।

कृषि बिल पास होने पर बोले राजनाथ सिंह- 'आत्मनिर्भर कृषि' की रखी गई मजबूत नींव

70 सालों के अन्याय से किसानों को कराया मुक्त
किसान बिल पारित होने के बाद नड्डा ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा, '70 साल से जिस तरीके से किसानों के साथ अन्याय हो रहा था, शोषण हो रहा था, उनको आजादी दिलाने का काम सरकार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में किया है।' उन्होंने कहा, 'जो पार्टियां बार-बार सभ्यता की बात करती हैं उन्होंने सभ्यता को ताक में रख कर जिस तरीके का कार्य किया है ये बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है और निंदनीय है। चेयरमैन साहब इसका नोट लेंगे और इस पर एक्शन भी लेंगे।'

Coronavirus: राजस्थान के 11 जिला मुख्यालयों पर धारा 144 लागू, 5 से अधिक लोगों के इकट्ठा होने पर रोक

राज्यसभा में विपक्ष का हंगामा निंदनीय
राज्यसभा में कृषि बिल को लेकर विपक्ष के हंगामे पर जेपी नड्डा ने कहा, 'राज्यसभा में जो भी हुआ (विपक्ष द्वारा हंगामा) मैं उसकी निंदा करता हूं। जो पार्टियां किसान विरोधी हैं उन्होंने आज इस तरह का प्रयास करके प्रजातंत्र पर बहुत बड़ा कुठाराघात किया है। उनको प्रजातंत्र पर भी विश्वास नहीं है इसलिए उन्होंने इस तरह से प्रयास किया था।'

पीएम मोदी फिर कर सकते हैं कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक, कोरोना पर हो सकती है चर्चा

देश के किसानों को दी शुभकामनाएं
कृषि बिलों पर बीजेपी चीफ जेपी नड्डा ने सिलसिलेवार तरीके से कई ट्वीट किए। उन्होंने अपने पहले ट्वीट में लिखा, 'कृषि एवं किसानों के सशक्तिकरण के लिए केंद्र सरकार द्वारा लाए गए विधेयकों के संसद में पास होने पर मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का अभिनंदन करता हूं और देश के सभी किसान भाइयों को शुभकामनाएं देता हूं। मैं समर्थन के लिए सभी सांसदों एवं राजनीतिक दलों को भी साधुवाद देता हूं।'

किसान बिल को लेकर राहुल का केंद्र पर हमला, कहा- किसानों को पूंजीपतियों का ‘गुलाम' बना रही है सरकार

बिचौलियों के चंगुल से मुक्त होंगे किसान
उन्होंने अपने अगले ट्वीट में कहा, 'संसद द्वारा पारित उपज व्यापार एवं वाणिज्य (संवर्धन एवं सरलीकरण), कृषक (सशक्तिकरण व संरक्षण) कीमत आश्वासन एवं कृषि सेवा पर करार और आवश्यक वस्तु (संशोधन) विधेयक सही मायनों में किसानों को अपने फसल के भंडारण, और बिक्री की आजादी देंगे और बिचौलियों के चंगुल से उन्हें मुक्त करेंगे।'नड्डा ने लिखा, 'एमएसपी अर्थात् मिनिमम सपोर्ट प्राइस था, है और रहेगा। एपीएमसी की व्यवस्था भी बनी रहेगी। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने दूरदर्शिता का परिचय देते हुए किसानों के बेहतर भविष्य के लिए ये कदम उठाए हैं जो किसानों की आय को दोगुना करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे।'

Nadda Tweet on Agriculture bills

MSP को लेकर सरकार पर भड़की कांग्रेस, बोली- कानूनी जिम्मेदारी से क्यों भाग रही सरकार

PM मोदी ही सबसे बड़े किसान हितैषी
उन्होंने कहा, 'अब किसान अपनी मर्जी का मालिक होगा। किसानों को उपज बेचने का विकल्प देकर उन्हें सशक्त बनाया गया है। बिक्री लाभदायक मूल्यों पर करने से संबंधित चयन की सुविधा का भी लाभ किसान ले सकेंगे। इससे जुड़ी किसी भी समस्या का समाधान किसान के घर पर ही उपलब्ध होगा।' नड्डा ने कहा, 'यह मोदी सरकार है जिसने स्वामीनाथन कमिटी की रिपोर्ट को लागू किया, किसानों को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि दी, फसल बीमा की सौगात दी और कृषिगत सुधार के लिए एक लाख करोड़ रुपए का अलग से आवंटन किया।'

JP Nadda Tweet

विपक्षी पार्टियों के हंगामे के बीच राज्यसभा से कृषि बिल हुआ पास

कांग्रेस पर बोला हमला
विपक्ष पर हमला बोलते हुए बीजेपी चीफ ने कहा, 'कांग्रेस ने लोक सभा चुनाव 2019 के अपने घोषणापत्र में एपीएमसी व्यवस्था को खत्म करने की बात की थी जबकि इन विधेयकों के अनुसार MSP और APMC चलती रहेगी। मोदी सरकार तो किसानों को बेहतर विकल्प उपलब्ध करा रही है। आखिर राहुल गांधी और कांग्रेस किसानों को सशक्त होते देखना क्यों नहीं चाहते।'

JP Nadda Tweet

शिक्षक भर्ती को लेकर सीएम योगी का बड़ा ऐलान, एक सप्ताह के भीतर खुद बांटेंगे नियुक्ति पत्र

कांग्रेस के दोहरे चरित्र से वाकिफ किसान
नड्डा ने आगे कहा, 'कांग्रेस ने किसानों के सशक्तिकरण के लिए कभी कोई रिफॉर्म्स नहीं किया। उसके पास न इसके लिए सोच थी, न ही इच्छाशक्ति। किसानों और गरीबों को गुमराह कर राजनीति करने की कांग्रेस की पुरानी आदत रही है। कांग्रेस के दोहरे चरित्र से किसान वाकिफ हैं, वे अब उसके बहकावे में आने वाले नहीं हैं।'

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.