Monday, Nov 29, 2021
-->
BJP Keshav Maurya say Opposition to election movement on new agricultural laws rkdsnt

केशव प्रसाद मौर्य बोले - नए कृषि कानूनों का विरोध ‘चुनावी आंदोलन’ है

  • Updated on 10/3/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने केंद्र के नए कृषि कानूनों के खिलाफ जारी किसानों के विरोध प्रदर्शन को ‘‘चुनावी आंदोलन’’ करार देते हुए रविवार को कहा कि आम किसान भाजपा का विरोध नहीं कर रहे हैं।  

हरीश रावत बोले- शाह से ‘करीबी’ अमरिंदर की धर्मनिरपेक्ष छवि पर सवाल खड़ा करती है

उपमुख्यमंत्री ने यहां 117.71 करोड़ रुपये मूल्य की 165 परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास कार्यक्रम से इतर एक सवाल के जवाब में संवाददाताओं से कहा कि संबंधित विरोध प्रदर्शन किसान आंदोलन नहीं, बल्कि ‘‘चुनावी आंदोलन’’ है।    गौरतलब है कि जिले के निघासन क्षेत्र में कुछ किसानों ने उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के दौरे का विरोध करने का ऐलान किया था। इस पर मौर्य ने कहा कि अगर उन किसानों को कोई परेशानी है तो वह उनकी बात सुनने को तैयार हैं।  

कंगना बोलीं- रामचंद्र जी की तरह तपस्वी राजा का यहां राज रहे, आपको शुभकामनायें योगी जी !!

 उन्होंने कहा, 'किसान अन्नदाता हैं, हमारे दुश्मन नहीं। भाजपा सरकार ने किसानों के भले के लिए बहुत काम किया है और सामान्य किसान भाजपा का विरोध नहीं कर रहा है। भाजपा सरकार के अच्छे काम से परेशान विपक्ष झूठ का एजेंडा चला रहा है।' मौर्य ने कहा कि राज्य सरकार ने गन्ना मूल्य में प्रति क्विंटल 25 रुपये की बढ़ोतरी समेत किसानों के भले के लिए अनेक काम किए हैं।  

कांग्रेस की मांग- गुजरात में हेरोइन जब्ती मामले की जांच सुप्रीम कोर्ट के जज से हो

 उन्होंने कहा कि अगर सभी विपक्षी दल एकजुट भी हो जाएं तो भी वे आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा को 300 से ज्यादा सीट जीतने से नहीं रोक सकते। मौर्य ने कहा कि पिछले विधानसभा चुनाव में भाजपा को 51 प्रतिशत वोट मिले थे, लेकिन इस बार पार्टी अपने दम पर 60 प्रतिशत से ज्यादा वोट हासिल करेगी। 

comments

.
.
.
.
.