Thursday, Apr 15, 2021
-->
bjp leaders attacked rahul gandhi on pm and india-china disengagement pragnt

राहुल गांधी ने PM मोदी को बताया डरपोक तो BJP नेताओं ने बताया 'मंदबुद्धि'

  • Updated on 2/12/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। भारत-चीन सीमा पर जारी डिसइंगेजमेंट को लेकर राहुल गांधी के बयान पर तमाम बीजेपी नेताओं ने पलटवार किया है। मुख्तार अब्बास नकवी ने राहुल गांधी की सोच पर सवाल उठाते हुए उन्हें कुंदबुद्धि पप्पू कहा है।

चीन: राहुल गांधी ने साधा केंद्र पर निशाना, कहा- डरपोक PM ने किया सैनिकों का अपमान

भारत-चीन डिसइंगेजमेंट पर दिए गए राहुल गांधी के बयान पर केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी (Mukhtar Abbas Naqvi) ने कहा, 'कुंदबुद्धि पप्पू जी के कमाल का कोई रास्ता नहीं है। कहीं और से सुपारी लेकर देश को बदनाम करने के षड्यंत्र और सुरक्षा बलों के मनोबल को तोड़ने की साजिशों में लगे हैं तो उसका कोई इलाज नहीं है।'

केंद्रीय मंत्री आरके सिंह ने भी राहुल के बयान पर पलटवार किया है। आरके सिंह ने कहा, 'हमारी सरकार ने आसपास के देशों को जता दिया है कि अगर आप भारत पर वार करेंगे तो भारत भी वार करेगा। राहुल गांधी न समझते हैं और न ही समझने का प्रयास करते हैं। उनमें गंभीरता नहीं है। यह अपरिपक्व बयान है।' 

अनुराग ठाकुर ने विपक्ष को दिया करारा जवाब, पूछा- बताओ कहां लिखा है मंडी और MSP बंद होगी

चीन के अघोषित प्रवक्ता बन गए राहुल- BJP
इसके अलावा बीजेपी सांसद राकेश सिन्हा ने कहा, 'राहुल गांधी का स्तर नीचे गिरता जा रहा है। अगर प्रधानमंत्री कायर हैं तो जवाहर लाल नेहरू क्या थे। कायर कौन है, 1962 में नेहरू ने 38 हजार किमी जमीन दे दी थी। राहुल गांधी चीन के अघोषित प्रवक्ता बन गए हैं। सदन में रक्षा मंत्री को ठीक से सुनते भी नहीं।' वहीं जी किशन रेड्डी ने कहा, 'उन्हें (राहुल गांधी) अपने दादा (जवाहरलाल नेहरू) से पूछना चाहिए कि चीन को भारत का इलाका किसने दिया है, उन्हें जवाब मिलेगा। कौन देशभक्त है और कौन नहीं, जनता यह सब जानती है।'

डरपोक PM ने किया सैनिकों का अपमान- राहुल
बता दें कि कांग्रेस (Congress) के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने चीन (China) के साथ सीमा पर गतिरोध को लेकर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) की ओर से संसद के दोनों सदनों में दिए गए वक्तव्य की पृष्ठभूमि में दावा किया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने 'भारत माता का एक टुकड़ा' चीन को दे दिया।

अनुराग ठाकुर बोले- ‘हम दो, हमारे दो’ से राहुल का मतलब ‘दीदी, जीजाजी और परिवार से’

अप्रैल 2020 की स्थिति बहाल हो- राहुल
राहुल गांधी ने यह आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री चीन के सामने झुक गए और उन्होंने सैनिकों की शहादत के साथ विश्वासघात किया है। कांग्रेस नेता ने संवाददाताओं से कहा, 'कल रक्षा मंत्री ने दोनों सदनों में बयान दिया। कई ऐसी चीजें हैं जिन्हें स्पष्ट करने की जरूरत है। पहली बात यह है कि इस गतिरोध के शुरुआत से ही भारत का यह रुख रहा है कि अप्रैल, 2020 से पहले की यथास्थिति बहाल होनी चाहिए, लेकिन रक्षा मंत्री के बयान से स्पष्ट है कि हम फिंगर 4 से फिंगर 3 तक आ गए।'

जितेंद्र सिंह ने किया साफ- UPSC की सिविल सेवा परीक्षा की आरक्षित सूची प्रतीक्षा सूची नहीं है

PM मोदी और रक्षा मंत्री पर लगाया आरोप
उन्होंने कहा, 'प्रधानमंत्री ने भारतीय सीमा चीन को क्यों दी? इसका जवाब प्रधानमंत्री और रक्षा मंत्री को देना है। देपसांग इलाके में चीन हमारी सीमा के अंदर आया है। इस बारे में रक्षा मंत्री ने एक शब्द नहीं बोला।' राहुल गांधी ने दावा किया, ' सच्चाई यह है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत की पवित्र जमीन चीन को दे दी है....उन्होंने भारत माता एक टुकड़ा चीन को दे दिया है।'

इंटरनेट पर रोक शासनों का पसंदीदा उपाय बन गया है: डिजिटल राइट्स ग्रुप

पैंगोंग झील पर चीन से करार पर बोले राहुल
गौरतलब है कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने गुरुवार को संसद के दोनों सदनों को बताया कि चीन के साथ पैंगोंग झील के उत्तर एवं दक्षिण किनारों पर सेनाओं के पीछे हटने का समझौता हो गया है और भारत ने इस बातचीत में कुछ भी खोया नहीं है। सिंह ने कहा कि पैंगोंग झील क्षेत्र में चीन के साथ सेनाओं के पीछे हटने का जो समझौता हुआ है, उसके अनुसार दोनों पक्ष अग्रिम तैनाती चरणबद्ध, समन्वय और सत्यापन के तरीके से हटाएंगे। उन्होंने यह भी बताया कि अब भी पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर तैनाती और गश्ती के बारे में 'कुछ लंबित मुद्दे' बचे हुए हैं जिन्हें आगे की बातचीत में रखा जाएगा।

ये भी पढ़ें:

comments

.
.
.
.
.