Saturday, Jul 31, 2021
-->
bjp-mla-from-uttarakhand-trapped-in-rape-case-negi-gets-immediate-relief-from-court-rkdsnt

दुष्कर्म मामले में फंसे उत्तराखंड के भाजपा विधायक नेगी को कोर्ट से मिली फौरी राहत 

  • Updated on 1/13/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। डीएनए जांच के लिए रक्त का नमूना देने के निचली अदालत के आदेश के खिलाफ उत्तराखंड उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाने वाले दुष्कर्म मामले में फंसे भाजपा विधायक महेश नेगी की याचिका सुनने से बुधवार को न्यायाधीश एनएस धनिक ने इंकार कर दिया । अल्मोडा जिले के द्वाराहाट से विधायक नेगी का मामला अब मुख्य न्यायाधीश राघवेंद्र सिंह चौहान किसी दूसरी पीठ को भेजेंगे। 

AAP गुजरात अध्यक्ष को उठा ले गई पुलिस, केजरीवाल के निशाने पर भाजपा

जब तक नई पीठ का चयन नहीं होता और मामले को सूचीबद्ध नहीं किया जाता, तब तक नेगी को फौरी राहत मिल गयी है। इससे पहले, उच्च न्यायालय ने सोमवार को नेगी की देहरादून के मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत के नेगी को डीएनए जांच के लिए रक्त का नमूना देने के आदेश के खिलाफ दायर याचिका को सुनवाई के लिए स्वीकार कर लिया था। 

नाथूराम गोड़से को लेकर साध्वी प्रज्ञा बोलीं- कांग्रेस ने हमेशा दी हैं देशभक्तों को गालियां

विधायक नेगी पर एक महिला ने पिछले वर्ष अगस्त में आरोप लगाया था कि उन्होंने उसके साथ अलग—अलग जगहों पर कई बार कथित रूप से दुष्कर्म किया। उसने यह भी दावा किया है कि विधायक उसकी पुत्री के जैविक पिता हैं। इस मामले की जांच फिलहाल पौडी जिले के श्रीनगर के महिला थाना द्वारा की जा रही है।

मोदी सरकार के सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट के निर्माण कार्य की तारीख तय


 

यहां पढ़ें अन्य बड़ी खबरें...

 


 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.