Thursday, Apr 02, 2020
BJP MP Subramanian Swamy raised questions on Modi government says GST insanity

सुब्रह्मण्यम स्वामी ने मोदी सरकार पर ही उठाए सवाल, #GST को बताया पागलपन

  • Updated on 2/20/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद सुब्रह्मण्यम स्वामी ने महत्वपूर्ण कर सुधार माने जा रहे वस्तु एवं सेवाकर (जीएसटी) को 21वीं सदी का सबसे बड़ा पागलपन बताया। उन्होंने कहा कि देश को 2030 तक ‘महाशक्ति’ बनने के लिए सालाना 10 प्रतिशत की वृद्धि दर के साथ आगे बढऩा होगा। 

कांग्रेस बोली- अमीर-गरीब के बीच बढ़ती खाई, मोदी सरकार ये तोहफा लाई

उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री पी.वी. नरसिम्हा राव को उनके कार्यकाल में किए गए सुधारों के लिए देश का सबसे बड़ा नागरिक सम्मान ‘भारत रत्न’ दिए जाने की भी मांग की। उन्होंने सरकार पर भी कई सवाल उठाए। सुब्रह्मण्यम स्वामी यहां प्रज्ञा भारती द्वारा ‘भारत वर्ष 2030 तक एक आॢथक महाशक्ति’ विषय पर आयोजित सम्मेलन में बोल रहे थे। 

#CPI की वृंदा करात ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ को बताया ‘राष्ट्रीय सर्वनाश संघ’

भ्रष्टाचार से लडऩे की जरूरत
उन्होंने कहा कि समय-समय पर हालांकि देश ने 8 प्रतिशत आर्थिक वृद्धि दर हासिल की है लेकिन कांग्रेस नेता द्वारा आगे बढ़ाए गए सुधारों में आगे कोई बेहतरी नहीं दिखाई दी। स्वामी ने कहा, ‘‘ऐसे में हम उस 3.7 प्रतिशत (निवेश इस्तेमाल के लिए जरूरी दक्षता कारक) को कैसे हासिल करेंगे।

#AAP के भगवंत मान ने ट्रंप यात्रा से पहले गुजरात में बनी दीवार को लेकर PM मोदी पर कसा तंज

इसके लिए एक तो हमें भ्रष्टाचार से लडऩे की जरूरत है और दूसरे निवेश करने वालों को पुरस्कृत करने की। आप उन्हें (निवेशकों को) आयकर और जी.एस.टी., जो 21वीं सदी का सबसे बड़ा पागलपन है, इसके जरिए आतंकित मत कीजिए।’’

आर्थिक, मनोवैज्ञानिक और भावनात्मक संकट से जूझ रहा है J&K : महबूबा मुफ्ती की बेटी

comments

.
.
.
.
.