Wednesday, Oct 27, 2021
-->
bjp mp varun gandhi supports farmers protest kmbsnt

BJP सांसद वरुण गांधी ने किसानों के समर्थन में कही ये बात, शेयर किया महापंचायत का वीडियो

  • Updated on 9/5/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। उत्तर प्रदेश के मुजफ्फनगर में हो रही महापंचायत में आज हजारों की संख्या में किसानों का हुजूम उमड़ पड़ा है। किसान लंबे समय से केंद्र सरकार द्वारा लाए गए तीनों नए  कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग कर रहे हैं। इस बीच भारतीय जनता पार्टी के सांसद वरुण गांधी ने किसानों के समर्थन में बात की है। 

किसानों के हुजूम का वीडियो शेयर करते हुए भारतीय जनता पार्टी के नेता वरुण गांधी ने किसानों का सहयोग करने की बात कही है। उन्होंने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से एक वीडियो साझा किया है। जिसमें हजारों की संख्या में किसान दिखाई पड़ रहे हैं।

मुजफ्फनगर महापंचायत आज, एक साथ आवाज उठाएंगे 300 किसान संगठन, सुरक्षा चाक-चौबंद

किसानों के साथ फिर से जुड़ने की जरूरत- वरुण गांधी
वीडियो को शेयर करते हुए वरुण गांधी ने लिखा है कि मुजफ्फरनगर में आज लाखों किसान धरना प्रदर्शन में जुटे हैं। वे हमारा अपने खून हैं। हमें उनके साथ सम्मानजनक तरीके से फिर से जुड़ने की करने की जरूरत है। उनके दर्द, उनके दृष्टिकोण को समझें और जमीनी हकीकत तक पहुंचने के लिए उनके साथ काम करें।

भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने आज इस महापंचायत में पहुंचकर एक बार फिर से अपना संकल्प दोहराते हुए कहा कि जब तक सरकार ये 'काला कानून' वापस नहीं लेती हम आदंलोन जारी रखेंगे। 

नहीं पता कब तक चलेगा ये आंदोलन- राकेश टिकैत 
वहीं इस महापंचायत में मीडिया से बात करते हुए भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने कहा कि जब भारत सरकार हमें बातचीत के लिए आमंत्रित करेगी, हम जाएंगे। जब तक सरकार हमारी मांगें पूरी नहीं करती तब तक किसानों का आंदोलन जारी रहेगा। आजादी के लिए संघर्ष 90 साल तक चला, इसलिए मुझे नहीं पता कि यह आंदोलन कब तक चलेगा।

मुजफ्फरनगर में किसान महापंचायत में हिस्सा लेने के लिए उमड़े किसान: एसकेएम 

महापंचायत में भाग ले रहे 300 किसान संगठन
बता दें कि उत्तर  प्रदेश के मुजफ्फनगर जिले में आज रविवार 5 सितंबर को 300 किसान संगठन कृषि कानूनों के खिलाफ अपनी आवाज बुलंद कर रहे हैं। इनमें पंजाब, हरियाणा और राजस्थान के किसान संगठन मुख्य रूप ये भाग ले रहे हैं। किसानों के इतने बड़े हुजूम को संभालने के लिए यूपी पुलिस ने चाक-चौबंद व्यवस्था की है। पुलिस को अलर्ट  पर रखा गया है। 

किसानों की भोजन की व्यवस्था के लिए 500 लंगर सेवाएं शुरू की गई हैं, जिसमें सैकड़ों ट्रैक्टर-ट्रॉलियों पर चलने वाली मोबाइल लंगर प्रणाली भी शामिल है। महापंचायत में भाग लेने वाले किसानों के लिए 100 चिकित्सा शिविर भी लगाए गए हैं। इसके अलावा 5000 वालेंटियर भी बनाए गए हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.