Thursday, Aug 18, 2022
-->
bjp rahul narvekar elected as speaker of maharashtra legislative assembly

भाजपा के राहुल नार्वेकर महाराष्ट्र विधानसभा के अध्यक्ष निर्वाचित

  • Updated on 7/3/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता राहुल नार्वेकर को रविवार को महाराष्ट्र विधानसभा का अध्यक्ष चुन लिया गया। नार्वेकर को 164 मत प्राप्त हुए और उन्होंने उद्धव ठाकरे नीत शिवसेना के उम्मीदवार राजन साल्वी को हराया जिन्हें 107 वोट मिले। उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि नार्वेकर देश में अब तक के सबसे युवा विधानसभा अध्यक्ष हैं। उनके ससुर और राकांपा नेता रामराजे नाइक विधान परिषद के सभापति हैं। महाराष्ट्र विधानसभा का विशेष सत्र रविवार पूर्वाह्न 11 बजे शुरू हुआ।   

अग्निपथ योजना के विरोध में पूरे उत्तर प्रदेश में विरोध प्रदर्शन करेगी AAP : संजय सिंह

  एकनाथ शिंदे के नेतृत्व वाली सरकार को सोमवार को 288 सदस्यीय विधानसभा में विश्वास मत का सामना करना होगा। शिवसेना के विधायक रमेश लटके के निधन के कारण विधानसभा में एक सीट रिक्त है। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के नरहरि जिरवाल अध्यक्ष पद के चुनाव में वोट नहीं डाल सके क्योंकि वह उपाध्यक्ष हैं। मतगणना के बाद, जिरवाल ने कहा, ‘‘शिवसेना के कुछ विधायकों ने पार्टी सचेतक के विरुद्ध मतदान किया है। इसकी रिकॉर्डिंग की जांच की जाएगी और उनके खिलाफ आवश्यक कदम उठाया जाएगा।’’     

पैगंबर टिप्पणी विवाद : नुपुर शर्मा के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी

रविवार को सदन की कार्यवाही के दौरान 12 विधायक अनुपस्थित रहे। जगताप मलिक और मुक्ता तिलक बीमार हैं जबकि अनिल देशमुख और नवाब मलिक जेल में हैं। एआईएमआईएम के विधायक मुफ्ती मोहम्मद इस्माइल सत्र में शामिल नहीं हुए। इसके अलावा समाजवादी पार्टी के रईस शेख और अबू आजमी तथा एआईएमआईएम के शाह फारुख ने मतदान नहीं किया।     

कांग्रेस ने उदयपुर की घटना के आरोपी को ‘भाजपा का सदस्य’ बताया, BJP ने किया खंडन

कांग्रेस की विधायक प्रणीति शिंदे सदन की कार्यवाही के दौरान अनुपस्थित रहीं। महाराष्ट्र रविवार को देश का एकमात्र राज्य बन गया जहां विधानसभा और विधान परिषद के पीठासीन अधिकारी दामाद-ससुर हैं। विधानसभा अध्यक्ष नार्वेकर मुंबई की कोलाबा सीट से विधायक हैं और अतीत में शिवसेना तथा राकांपा से उनका नाता रहा है। उनके भाई मकरंद कोलाबा से पार्षद हैं।     

मप्र स्थानीय चुनाव के लिए AAP ने कसी कमर, केजरीवाल ने किए वादे

नार्वेकर अपने शुरुआती दिनों में शिवसेना की युवा इकाई के प्रवक्ता थे और उन्होंने 2014 में पार्टी के शीर्ष नेतृत्व (उद्धव ठाकरे) तक आम कार्यकर्ता की पहुंच नहीं होने का आरोप लगाते हुए शिवसेना छोड़ राकांपा का दामन थाम लिया था। नार्वेकर ने 2014 में मावल से लोकसभा चुनाव लड़ा और शिवसेना के उम्मीदवार से हार गए। इसके बाद उन्होंने 2019 में भाजपा से कोलाबा विधानसभा सीट पर चुनाव लड़ा और कांग्रेस के अशोक जगताप को हराकर विजय हासिल की।      

CJI रमण अमेरिका में बोले - सिर्फ संविधान के प्रति जवाबदेह है न्यायपालिका

 

comments

.
.
.
.
.