Saturday, May 26, 2018

राम माधव बोले- कांग्रेस-JDS के कर्म ही नहीं छोड़ रहे हैं उनका पीछा

  • Updated on 5/16/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। भाजपा के महासचिव राम माधव ने कर्नाटक में कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन पर करारा तंज कसते हुए कहा है कि इन दोनों दलों के कर्म ही उनका पीछा नहीं छोड़ रहे हैं। राम माधव ने 1996 में गुजरात में भाजपा सरकार को बर्खास्त कर दिए जाने का जिक्र किया।

देश में दिखा चांद, कल पहला रोजा, उलेमा ने किया रमजान महीने का ऐलान

माधव ने व्हाट्सएप पर मिले एक संदेश को शेयर करते हुए कहा कि एचडी देवेगौड़ा अब जेडीएस अध्यक्ष हैं और उस वक्त वह प्रधानमंत्री थे। उस वक्त गुजरात के राज्यपाल कृष्णपाल सिंह थे जो पूर्व कांग्रेस नेता थे जबकि भाजपा की राज्य इकाई के चीफ वजूभाई वाला थे, जो अब कर्नाटक के राज्यपाल हैं।

कर्नाटक में भाजपा को मौका मिलने पर भड़के जेडीएस नेता कुमारस्वामी

कांग्रेस के समर्थन वाली देवेगौड़ा सरकार की सिफारिशों पर राज्य में तत्कालीन राष्ट्रपति शंकर दयाल शर्मा ने राष्ट्रपति शासन लगा दिया था। सुरेश मेहता राज्य के सीएम थे और विधानसभा में उनकी सरकार ने बहुमत साबित किया था, लेकिन राज्य में कथित संवैधानिक संकट के लिए उनकी सरकार को बर्खास्त कर दिया गया।

कर्नाटक : राज्यपाल के फैसले को कोर्ट में चुनौती दे सकती है हैरान कांग्रेस

सोशल मीडिया पर माधव द्वारा शेयर की गई पोस्ट में कहा गया है, '22 साल बाद कर्नाटक में कर्म कांग्रेस का पीछा नहीं छोड़ रहे है।' कर्नाटक चुनाव के घोषित परिणामों में किसी भी दल को स्पष्ट बहुमत नहीं मिला था, जिसके बाद भाजपा और कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन दोनों ने राज्य में सरकार बनाने का दावा पेश किया था।

कर्नाटक में भाजपा को मौका, कल सुबह येदियुरप्पा लेंगे शपथ, कांग्रेस-JDS हैरान

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.