Wednesday, Jun 26, 2019

अटल बिहारी से लेकर मोदी तक 18 साल में इस तरह बढ़ता गया भाजपा का कद, जानिए ये आंकड़े

  • Updated on 5/22/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। भाजपा की जीत का ग्राफ 1996 से 2014 तक 18 साल में  सिर्फ 2009 के लोकसभा चुनाव में सिर्फ एक बार ही कांग्रेस से नीचे गया है। 2019 में पहली बार भाजपा कांग्रेस से ज्यादा सीटों (437) पर चुनाव लडी है। राजनीतिक जानकारों की मानें तो भाजपा ने कई वर्षों से लगातार इस पर काम किया है कि कैसे सीटों पर अपनी पकड़ मजबूत की जाए। इस चुनाव में भी एक्जिट पोल के अनुसार बीजेपी एक बार फिर सत्ता में वापसी करती हुई दिख रही है। 

2014 के बाद भाजपा की पकड़ पूरे देश में फैली है। अपने इसी विस्तार के कारण भाजपा ने ज्यादा उम्मीदवार चुनावी मैदान में उतारे हैं। भाजपा आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में एन.डी.ए. के सहयोगियों का साथ छोड़कर इस बार सभी सीटों पर अकेले चुनाव लड़ रही है जबकि कांग्रेस इस बार भाजपा की तुलना में कम सीटों (423) पर चुनाव लड़ रही है क्योंकि उसने 2014 की तुलना में अधिक दलों के साथ गठबंधन कर रखा है। 

उसे सीटें बांटनी पड़ रही हैं। कांग्रेस ने कई सीटों पर बिना गठबंधन के आपसी सहमति से सीटें छोड़ी हैं। 2014 में भाजपा ने 427 सीटों पर चुनाव लड़ा था और इनमें से 282 सीटों पर उसे जीत मिली थी। वहीं कांग्रेस ने 450 सीटों पर उम्मीदवार उतारे थे लेकिन उसे महज 44 सीटें मिलीं। 2014 के चुनाव में भाजपा की जीत की बड़ी वजह थी मोदी लहर।    

चुनावी मेले में समलैंगिकों पर सियासतदारों की नजर, वोट लेने के लिए घोषणा पत्रों में दी जगह       

 30 साल लग गए भाजपा को सबसे ज्यादा सीटों तक पहुंचने में...

जनसंघ के जनता पार्टी में विलय और फिर इसके टूटने के बाद 1980 में भाजपा बनी। भाजपा ने 1984 में पहला चुनाव लड़ा और 2 सीटों पर जीती। 1989 के चुनावों में राम मंदिर मुद्दा बन चुका था। इस चुनाव में उसने 86 यानी 15 प्रतिशत सीटें हासिल कीं। फिर लाल कृष्ण अडवानी ने रथ यात्रा निकाली। 1991 में चुनाव हुए और भाजपा की सीटें बढ़कर 120 यानी 22 प्रतिशत हो गईं। 

कमलनाथ की पारंपरिक सीट छिंदवाड़ा से प्रतिष्ठा की लड़ाई लड़ेंगे नकुलनाथ

1996 के चुनाव में भाजपा को 161, 1998 में 182 और 1999 में 182 सीटें मिलीं। 2009 तक सीटें घटकर 116 पर आ गईं लेकिन 2014 में उसने अपनी सबसे ज्यादा 282 सीटें हासिल कीं। लोकसभा चुनाव 2019 के चौथे चरण की 71 सीटों में से भाजपा नीत एन.डी.ए. ने 2014 में 56 सीटें जीती थीं। विपक्ष को सिर्फ 15 सीटें हासिल हुई थीं। कांग्रेस को सिर्फ 2 सीटें मिली थीं। अब देखना यह है कि क्या भाजपा इस बार भी अपना सक्सैस रेट बरकरार रख पाएगी।

23 साल में किसे कितनी सीटें मिलीं
वर्ष    पार्टी    सीटें    जीत    सफलता
2014    भाजपा    428    282    65.88%
2014    कांग्रेस    464    44    09.48%
2009    भाजपा    433    116    26.78%
2009    कांग्रेस    440    206    46.81% 
2004    भाजपा    364    138    37.91%
2004     कांग्रेस    417    145    34.77%
1999     भाजपा    339    182    53.68%
1999     कांग्रेस    453    114    25.16%
1998     भाजपा    388    182    46.90%
1998     कांग्रेस    477    141    29.55%
1996     भाजपा    471    161    34.18%
1996     कांग्रेस    529    140    26.46%

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.