Monday, Apr 22, 2019

हरियाणा में भाजपा और शिरोमणि अकाली दल साथ मिलकर लड़ेंगे चुनाव

  • Updated on 4/12/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। हरियाणा में आम आदमी पार्टी (आप) और जनहित जनता पार्टी (जेजेपी) के गठजोड़ के बाद सत्तारूढ़ भाजपा ने भी कमर कस ली है। भाजपा ने अब हरियाणा में पंजाब में अपने सहयोगी शिरोमणि अकाली दल के साथ चुनाव लड़ने का फैसला किया है। सीटों को लेकर फिलहाल बाद में फैसला किया जाएगा। हरियाणा में अब कांग्रेस अलग-थलग पड़ती नजर आ रही है। 

स्मृति ईरानी ने पीएम मोदी की तर्ज पर कांग्रेस पर किया पलटवार

दरअसल, दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से दिल्ली, हरियाणा और पंजाब में साथ मिलकर चुनाव लड़ने की गुजारिश की थी, लेकिन यहां इस मुद्दे पर बात नहीं बन पाई। इसके बाद आम आदमी पार्टी ने पहले दिल्ली, फिर पंजाब में अपने उम्मीदवारों का ऐलान कर दिया और आज पार्टी ने हरियाणा में जनहित जनता पार्टी (जेजेपी) से गठजोड़ कर लिया। 

नरेंद्र मोदी को लेकर देवगौड़ा के बेटे ने चैलेंज के साथ की सियासी भविष्यवाणी

बता दें कि जिंद उपचुनाव में कांग्रेस उम्मीदवार रणदीप सिंह सुरजेवाला को भाजपा को हाथों हार चखनी पड़ी थी। आप के हरियाणा प्रभारी गोपाल राय ने इससे पहले बयान दिया था कि कांग्रेस को जिंद चुनाव से भी सबक लेना चाहिए। भाजपा को हराना है तो विपक्ष को मिलकर चुनाव लड़ना होगा। 

वोटर लिस्ट से नाम गायब होने पर भड़कीं अपोलो हॉस्पिटल्स ग्रुप की कार्यकारी उपाध्यक्ष

दरअसल हरियाणा पार्टी प्रभारी गोपाल राय और जेजेपी अध्यक्ष दुष्यंत चौटाला ने शुक्रवार को दोनों दलों के बीच चुनावी गठबंधन की औपचारिक घोषणा की। चौटाला ने कहा कि लोकसभा चुनाव में हरियाणा की 3 लोक सभा सीटों पर आप और 7 पर जेजेपी चुनाव लड़ेगी। उन्होंने कहा कि कौन सा दल किस सीट पर चुनाव लड़ेगा इसका फ़ैसला करने के लिए दोनों दलों के नेताओं की संयुक्त समन्वय समिति करेगी। 

 #NaMoTV के बाद #NaMoFoods पर मचा बवाल, अखिलेश ने उठाए सवाल

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.