Tuesday, Jun 28, 2022
-->
bjp should respect all former prime ministers: pm modi rkdsnt

सभी पूर्व प्रधानमंत्रियों का सम्मान करें भाजपाई : प्रधानमंत्री मोदी

  • Updated on 3/29/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीन मूर्ति भवन परिसर में बन रहे पूर्व प्रधानमंत्रियों के संग्रहालय के महत्व को रेखांकित करते हुए कहा कि यह राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) की ही सरकार है, जिसने सभी पूर्व प्रधानमंत्रियों के योगदान का सम्मान किया है। भारतीय जनता पार्टी के संसदीय दल की बैठक में प्रधानमंत्री ने सभी सांसदों से सामाजिक न्याय को समर्पित सामाजिक न्याय पखवाड़ा के तहत अपने-अपने संसदीय क्षेत्रों में छह अप्रैल से विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन करने को कहा। साथ ही उन्होंने पार्टी सांसदों से अनुसूचित जाति व जनजातियों के लिए चलाई जा रही कल्याणकारी योजनाओं का प्रचार-प्रचार करने को भी कहा। प्रधानमंत्री मोदी 14 अप्रैल को संविधान निर्माता बाबा साहेब डॉक्टर भीमराव आंबेडकर की जयंती पर पूर्व प्रधानमंत्रियों के संग्रहालय का उद्घाटन करने वाले हैं।

कश्मीरी प्रवासी शिक्षकों को नियमित करने के मुद्दे पर AAP ने किया BJP पर पलटवार

दिल्ली के तीन मूॢत एस्टेट में बनाया जा रहा यह संग्रहालय अब तक के सभी 14 भारतीय प्रधानमंत्रियों के जीवन और समय तथा उनके योगदान को प्रर्दिशत करेगा। जवाहरलाल नेहरू से जुड़ा संग्रह नेहरू मेमोरियल संग्रहालय में रहेगा। बैठक में प्रधानमंत्री ने पूर्व प्रधानमंत्रियों के संग्रहालय का उल्लेख करते हुए कहा कि भले ही इसमें भाजपा के एक प्रधानमंत्री हों लेकिन देश के हर एक प्रधानमंत्री का योगदान महत्वपूर्ण है और उसका सम्मान किया जाना चाहिए। सूत्रों के मुताबिक प्रधानमंत्री ने कहा,  हमारे तो एक ही हैं, बाकी उनके हैं। वह किसी भी दल के रहे हों, फिर भी हमने पूर्व प्रधानमंत्रियों के योगदान को सम्मान दिया है। हमें दलगत भावना से ऊपर उठकर सभी प्रधानमंत्रियों का सम्मान करना चाहिए। आप सभी को यहां जाना चाहिए। भाजपा अक्सर यह आरोप लगाती रही है कि आजादी के बाद अधिकांश समय कांग्रेस ने देश पर शासन किया और वह सिर्फ गांधी-नेहरू परिवार के प्रधानमंत्रियों का ही गुणगान करती रही थी जबकि अन्य के साथ उसका व्यवहार ठीक नहीं रहा।

फिर बढ़े पेट्रोल और डीजल दाम, दिल्ली में 100 रुपये लीटर के ऊपर

सूत्रों के मुताबिक, प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में गरीबों को राहत देने के लिए मुफ्त खाद्यान्न कार्यक्रम- प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (पीएमजीकेएवाई) को इस साल सितंबर तक छह महीने के लिए बढ़ाए जाने का उल्लेख किया। साथ ही सांसदों से कहा कि उन्हें इस योजना के बारे में घर-घर जाकर लोगों को बताना चाहिए।     बैठक के बाद संसदीय कार्य राज्यमंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने पत्रकारों को बताया कि भाजपा संसदीय दल ने खाद्यान्न योजना के विस्तार के लिए प्रधानमंत्री का आभार जताया। मेघवाल ने कहा कि आज की बैठक में प्रधानमंत्री का जोर 6 से 14 अप्रैल के बीच मनाए जाने वाले सामाजिक न्याय सप्ताह पर रहा।  

मुजफ्फरनगर में किसान नेता राकेश टिकैत का अनिश्चितकालीन धरना शुरू

प्रधानमंत्री ने इस दौरान सांसदों से अपने-अपने संसदीय क्षेत्रों में कार्यक्रमों का आयोजन करने को कहा। सूत्रों के मुताबिक प्रधानमंत्री ने सांसदों से इस दौरान बाबा साहेब आंबेडकर से जुड़े तीर्थ स्थलों का दौरा करने को भी कहा। प्रधानमंत्री ने इस दौरान सांसदों को यह सुझाव भी दिया कि आजादी का अमृत महोत्सव के तहत मनरेगा कोष का इस्तेमाल गांवों में छोटे-छोटे तालाब बनाने में करना चाहिए। उन्होंने सांसदों से आकांक्षी जिलों का दौरा करके वहां विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन करने को भी कहा। आंबेडकर अंतरराष्ट्रीय केंद्र में हुई भाजपा संसदीय दल की बैठक में  रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, भाजपा के अध्यक्ष जे पी नड्डा सहित पार्टी के सभी सांसद एवं केंद्रीय मंत्री मौजूद रहे। 

शाह के फैसले से नाराज हरसिमरत कौर, कहा- चंडीगढ़ हमारे लिए भावनात्मक मुद्दा
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.