Wednesday, Mar 03, 2021
-->
BJP Workers Protest at Manish Sisodia house CM kejriwal Qus to rajnath singh KMBSNT

डिप्टी CM के घर पर हुए हमले को लेकर केजरीवाल ने राजनाथ सिंह से पूछा ये सवाल

  • Updated on 12/11/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। बीजेपी (BJP) कार्यकर्ताओं द्वारा प्रदर्शन के नाम पर दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia)  के घर के भीतर घुस जाने की दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल (Arvind kejriwal) ने निंदा की है। इसके साथ ही उन्होंने केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से सवाल किया है कि राजनाथ जी, क्या आपको नहीं लगता कि पुलिस की मौजूदगी में दिल्ली के उपमुख्यमंत्री के निवास पर हिंसक हमला ग़लत है? आम आदमी पार्टी और दिल्ली सरकार द्वारा किसानों के आंदोलन को समर्थन देने पर भाजपा में इतनी बौखलाहट क्यों? 

दरअसल रक्षा मंंत्री राजनाथ सिंह ने पश्चिम बंगाल में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष के क़ाफ़िले पर हुए को लेकर एक ट्वीट कर चिंता व्यक्त की थी, जिसमें उन्होंने लिखा था कि लोकतंत्र में राजनीतिक नेताओं को इस तरह से निशाना बनाना बेहद चिंताजनक है। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष के क़ाफ़िले पर हुए हमले की गम्भीरता को देखते हुए इसकी पूरी जाँच की जानी चाहिए और इस घटना की ज़िम्मेदारी तय की जानी चाहिए। सिंह के इसी ट्वीट पर सीएम केजरीवाल ने उनसे डिप्टी सीएम सिसोदिया के घर पर बीजेपी कार्यकर्ताओं के जबरन घुसने पर सवाल किया है। 

मनीष सिसोदिया के परिवार पर थी हमले की साजिश? वायरल वीडियो खोलेगी राज

मेयर को मारने की धमकी के खिलाफ बीजेपी का धरना
बता दें कि वायरल वीडियो में मेयर को मारने की धमकी के खिलाफ भाजपा कार्यकर्ताओं ने गुरुवार को दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के घर के बाहर प्रदर्शन कर हंगामा किया, जिसमें सिसोदिया के सचिव की तरफ से मिली लिखित शिकायत के बाद दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने कई धाराओं में मुकदमा दर्ज कर 6 लोगों को हिरासत में ले लिया। 

वहीं आम आदमी पार्टी ने उपमुख्यमंत्री के घर की दो वीडियो जारी की जिसमें कुछ लोग पुलिस की मौजूदगी के बावजूद जबरन घर में दाखिल होते दिखाई दे रहे हैं। मगर इस वीडियो पर तारीख 12 जुलाई की दिखाई देने की वजह से भाजपा ने इस वीडियो की सत्यता पर सवाल उठाए हैं।

200 लोग पहुंचे डिप्टी सीएम के घर के बाहर
दरअसल बुधवार को दिल्ली बीजेपी के कार्यालय मंत्री हुकुम सिंह ने मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के मथुरा रोड स्थित घर पर प्रदर्शन करने की परमिशन मांगी थी, लेकिन जिला पुलिस ने परमिशन देने से इंकार कर दिया और वक्त पर उन्हें इस बारे में सूचित भी कर दिया था। मगर इसके बावजूद गुरुवार की सुबह 11:30 बजे लगभग 200 लोग मुख्यमंत्री के घर के बाहर जमा हुए। पुलिस ने बैरिकेड लगाकर वहां घेराबंदी कर दी थी। मगर कुछ लोग बैरिकेड तोड़कर सर्विस लेन में कूद गए और वहां से होते वह मुख्यमंत्री के घर में दाखिल हो गए।

दिल्ली में प्रदूषण पर लगाम के लिए संबंधित एजेंसियों को CPCB का नोटिस

पुलिस ने 6 लोगों को हिरासत में लिया
पुलिस ने फौरन प्रदर्शनकारियों को काबू में कर 6 लोगों को हिरासत में ले लिया। इसके बाद बाकी के प्रदर्शनकारियों को भी वहां से हटा दिया गया। प्रदर्शन खत्म हो गया। इधर आप कार्यकर्ताओं ने सोशल मीडिया पर उपमुख्यमंत्री के घर की 2 सीसीटीवी कैमरों की फुटेज सोशल मीडिया पर वायरल की। जबकि शाम को उपमुख्यमंत्री के सचिव सी अरविंद ने इस मामले में तिलक मार्ग थाने में लिखित शिकायत दी, जिसमें हिरासत में लिए गए लोगों को गिरफ्तार किए जाने की मांग की गई है।

जिले के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों की मानें तो सोशल मीडिया पर वायरल की जांच करके पता लगाया जा रहा है कि वह कब की है। फिलहाल पुलिस आगे की छानबीन कर रही है। 

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें...

comments

.
.
.
.
.