Tuesday, Aug 03, 2021
-->
bmc filed a cavity petition in kangana ranaut case rkdsnt

कंगना रनौत मामले में BMC ने कोर्ट में दायर की कैविएट याचिका

  • Updated on 9/8/2020


नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। बृहन्मुंबई महानगरपालिका (BMC) ने मंगलवार को एक स्थानीय अदालत में कैविएट याचिका दायर की और आग्रह किया कि यदि अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut) उन्हें जारी किए गए ‘काम रोकने’ के नोटिस को चुनौती देती हैं तो नगर निकाय को पहले सुना जाए। बीएमसी अधिकारियों ने सोमवार को बांद्रा में पाली हिल स्थित कंगना के आवास का निरीक्षण किया और कई ‘अवैध’ बदलाव पाने के बाद उन्हें काम रोकने का नोटिस जारी किया। 

सुशांत मामला  : NCB ने की रिया चक्रवर्ती को न्यायिक हिरासत में भेजने की मांग

कैविएट में अदालत से आग्रह किया जाता है कि यह याचिका दायर करने वाले को सुने बिना कोई आदेश जारी न किया जाए। इस बीच, कंगना ने अपने वकील रिजवान सिद्दीकी के जरिए बीएमसी के नोटिस का जवाब दिया और इसके अधिकारियों पर अपने घर में अवैध रूप से घुसने तथा झूठे दावे करने का आरोप लगाया।

कंगना के बंगले पर अवैध निर्माण का नोटिस 
इससे पहले बृहन्मुंबई महानगरपालिक (बीएमसी) के अधिकारियों ने बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत के यहां स्थित बंगले के बाहर एक नोटिस चिपकाया है, जिसमें कहा गया है कि नगर निकाय की मंजूरी के बिना इसमें कई बदलाव किए गए हैं। नगर निकाय के एक अधिकारी ने पीटीआई-भाषा को बताया कि बीएमसी की टीम उपनगर बांद्रा में अभिनेत्री के पाली हिल बंगले गई थी। वहां नोटिस लेने वाला कोई नहीं था, जिस वजह से नोटिस को वहां चिपका दिया गया। 

महाराष्ट्र : देवेंद्र फडणवीस को नहीं रास आई अभिनेत्री कंगना रनौत की टिप्पणी

अधिकारी ने बताया कि नोटिस में बंगले में एक दर्जन से ज्यादा बदलावों को रेखांकित किया गया है, जैसे कि शौचालय को कार्यालय के कैबिन में तब्दील किया गया है, जबकि सीढिय़ों के साथ नया शौचालय बनाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि बीएमसी ने रनौत से 24 घंटे में इसका जवाब देने को कहा है। उनसे नगर निकाय को यह जानकारी देने को कहा गया है कि इस निर्माण को लेकर क्या उन्होंने कोई मंजूरी ली है? 

TMC ने वाई प्लस श्रेणी की सुरक्षा पर सवाल उठाया 
तृणमूल कांग्रेस सांसद महुआ मोइत्रा ने मंगलवार को आश्चर्य व्यक्त करते हुए कहा कि भारत जैसे देश जहां जनसंख्या के हिसाब से पुलिसर्किमयों की कमी है, वहां बॉलीवुड कलाकारों को वाई प्लस श्रेणी की सुरक्षा देना प्राथमिकता कैसे हो सकती है। मोइत्रा की यह टिप्पणी बॉलीवुड कालाकार कंगना रनौत को केंद्रीय सुरक्षा एजेंसियों द्वारा वाई प्लस श्रेणी की सुरक्षा दिए जाने के बाद आया है। 

फिल्म 'बधाई हो' की अभिनेत्री सुरेखा सीकरी को हुआ ब्रेन स्ट्रोक, ICU में भर्ती

अभिनेत्री ने कहा था कि अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत और फिल्म उद्योग के एक वर्ग में मादक पदार्थों के इस्तेमाल के बारे में बोलने के चलते वह मुंबई में असुरक्षित महसूस करने लगी हैं। मोइत्रा ने कहा कि‘संसाधनों का बेहतर इस्तेमाल ’किया जा सकता था। उन्होंने इस ओर इशारा किया कि देश में प्रति लाख जनसंख्या पर सिर्फ 138 पुलिसकर्मी हैं और ऐसे में बॉलीवुड कलाकार को उच्च स्तर की सुरक्षा देने का क्या औचित्य हो सकता है? 

सुशांत परिवार के वकील ने रिया की FIR को लेकर मुंबई पुलिस पर उठाए सवाल

 

सुशांत सिंह राजपूत केस से जुड़ी 5 बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.