Monday, Jan 30, 2023
-->
books-will-be-seen-on-the-virtual-world

आभासी दुनिया पर दिखेगी किताबों की धूम

  • Updated on 8/27/2021

नई दिल्ली। अनामिका सिंह। यदि विश्व पुस्तक मेला किताबों का महाकुंभ है तो दिल्ली पुस्तक मेले को कुंभ कहना कोई अतिश्योक्ति नहीं होगी। पिछले साल की तरह ही इस साल भी इस किताबों के कुंभ के 27वें संस्करण का आयोजन वर्चुअली ही किया जाने वाला है। जिसका आयोजन बीते साल की तरह ही ऑनलाइन प्लेटफाॅर्म प्रगति-ई पर वर्चुअली होगा। जोकि 3-5 सितंबर तक आयोजित होगा।

29वें विश्व पुस्तक मेले का हुआ सफल आयोजन, 68 देशों से पाठकों ने लिया हिस्सा

थीम होगी मानसिक स्वास्थ्य और सस्टेनेबिलिटी
कोरोना ने पूरे विश्व को झकझोर कर रख दिया है। प्रत्येक व्यक्ति के मस्तिष्क पर इसका गहरा प्रभाव पडा है। इसीलिए इस बार मेले की थीम ‘मानसिक स्वास्थ्य और सस्टेनेबिलिटी’ रखी गई है। यही नहीं इस बार इस विषय पर आपको मेले के दौरान पुस्तक ही नहीं मिलेगी बल्कि इससे संबंधित बातें भी एक्सपर्ट द्वारा की जाएंगी।

विश्व पुस्तक मेले के पहले ही दिन जुड़े 11 हजार विजिटर्स

लगभग 125 प्रकाशक लेंगे भाग
फेडरेशन ऑफ इंडियन पब्लिशर्स (एफआईपी) के सह-सचिव प्रणव गुप्ता ने बताया कि इस बार मेले में तकरीबन 125 से अधिक प्रकाशक भाग लेने वाले हैं। उन्हें उम्मीद है कि 2.50 से अधिक देश-विदेश के पाठक भी इससे जुडेंगे। उन्होंने बताया कि पिछली बार मेले का आयोजन सिर्फ 2 दिन के लिए हुआ था लेकिन प्रकाशकों व पाठकों की मांग पर उसे एक दिन के लिए आगे बढा दिया गया था। इस बार 5 हजार से अधिक शीर्षक होंगे।

15 हजार लोगों ने की विश्व पुस्तक मेले में शिरकत

तकनीक का बेहतरीन प्रयोग
प्रगति-ई प्लेटफाॅर्म के संस्थापक व सीईओ कपिल गुप्ता ने कहा कि मेले के दूसरे आॅनलाइन संस्करण में हमने पिछली कमियों को पूरा करने का प्रयास किया है। 360 डिग्री विजुअलिटी रखी गई है। जैसे ही आप दिल्ली पुस्तक मेले पर क्लिक करेंगे आप खुद को मेले का हिस्सा बना लेंगे। यही नहीं वेबिनार, थीम मंडप, प्रतियोगिताओं के द्वारा पाठकों को जोडने का प्रयास किया जाएगा। करीब 50 से अधिक वेबिनार का आयोजन होगा, जिसमें जी.डी. बख्शी सहित कई गणमान्य लोग होंगे। वहीं प्रकाशकों को पुरस्कार 5 सितंबर को दिए जाएगें, जिसका प्रसारण लाइव होगा।

दिल्लीः वर्चुअल प्लेटफाॅर्म पर आयोजित होगा विश्व पुस्तक मेला

दो कम उम्र के ऑर्थर को फ्री दिया स्टाॅल
प्रणय ने बताया कि दो काफी कम उम्र के आॅर्थर हैं जिन्हें प्रोत्साहित करने के लिए हमने उन्हें फ्री स्टाॅल मुहैया करवाया है। इससे अन्य लोगों को भी आने वाले समय में बढावा मिलेगा। इसके अलावा विभिन्न वर्गों के साथ ही बच्चों के लिए काफी खास है यह मेला। कई कार्टून टीवी चैनलों से भी हमारी बात चल रही है। पिछली बार की तरह पेंटिंग, राइटिंग जैसी प्रतियोगिताएं बच्चों के लिए आयोजित होंगी।

सेल्फी खींचे मेले से जुडें
कपिल ने बताया कि इस बार उन्होंने एक नई तैयारी की है। जिसमें पाठक या पुस्तक मेले के विजिटर्स अपनी फोटो खींचकर हमें भेजेंगे। जिससे हम एक कोलार्ज तैयार करेंगे। जिसे प्रगति-ई प्लेटफाॅर्म पर दिखाया जाएगा। ये दिल्ली पुस्तक मेले से आपके जुडे होने का एक पुख्ता सबूत भी होगा।

comments

.
.
.
.
.