Tuesday, Nov 30, 2021
-->
Brain stroke occurs when there is a problem in the blood circulation of the brain- Dr. Sonia Lal

मस्तिष्क के रक्त संचरण में परेशानी आने पर होता है ब्रेन स्ट्रोक- डॉ सोनिया लाल गुप्ता

  • Updated on 10/28/2021

नई दिल्ली, (टीम डिजिटल):खराब दिनचर्या, गलत खानपान और तनाव के चलते कई बीमारियां दस्तक देती हैं। इनमें मोटापा, मधुमेह और उच्च रक्तचाप शामिल हैं। गलत आदत की वजह से स्ट्रोक का तेजी से बढ़ रहा है। समय रहते ध्यान नहीं दिया गया, तो यह जानलेवा साबित हो सकता है। यह बातें वीरवार को विश्व स्ट्रोक दिवस पर दिल्ली से सटे नोएडा के सेक्टर 11 स्थित मेट्रो अस्पताल के डॉक्टर ने कही। 

मेट्रो अस्पताल में सीनियर कंसलटेंट न्यूरोलॉजिस्ट (हैडक एंड स्ट्रोक स्पेशलिस्ट) व मेट्रो ग्रुप ऑफ अस्पताल की निदेशक डॉ सोनिया लाल गुप्ता ने बताया कि मस्तिष्क में रक्त संचरण में कोई परेशानी आने की वजह से ब्रेन स्ट्रोक की बीमारी होती है। कई मौके पर रक्त वाहिकाएं ब्लॉक हो जाती हैं। इससे दिमाग को पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन नहीं मिलती है। मस्तिष्क के उत्तकों में पोषण तत्वों की कमी होने लगती है। अगर समय पर उपचार नहीं किया जाता है, तो मरीज की जान भी जा सकती है। ब्रेन स्ट्रोक के ज्यादातर शिकार लोगों की आयु कम होती है। अगर जीवनशैली की कुछ आदतों में समय रहते सुधार कर लिया जाए तो ब्रेन स्ट्रोक के खतरे को काफी हद तक कम किया जा सकता है। इसलिए 29 अक्टूबर को विश्व स्ट्रोक दिवस मनाया जाता है। वहीं सीनियर कंसलटेंट न्यूरोलॉजिस्ट एंड क्लीनिकल कॉर्डिनेटर मेट्रो सेंटर न्यूरोसाइंस डॉ कपिल के सिंघल ने बताया कि स्ट्रोक पुरुषों तथा महिलाओं को समान रूप से प्रभावित करता है। कंसल्टेंट न्यूरो स्पाइन सर्जन डॉ आकाश मिश्रा ने बताया कि वर्कआउट न करने के चलते न केवल वजन बढऩे लगता है, बल्कि कई अन्य बीमारियां भी दस्तक देती हैं। इससे स्ट्रोक का खतरा भी बने लगता है। 
 

comments

.
.
.
.
.