Saturday, Jul 24, 2021
-->
bsp mayawati tweet on the death of children in kota congress does not look sensitive

कोटा में बच्चों की मौत पर मायावती ने कांग्रेस को लिया आड़े हाथ, बताया असंवेदनशील पार्टी

  • Updated on 1/4/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। राजस्थान (Rajasthan) के कोटा (Kota) में बच्चों की मौत का सिलसिला जारी है। अस्पताल में अब तक मरने वाले बच्चों की संख्या 106 से पार पहुंच गई है। इतनी बड़ी तादाद में बच्चों की मौत पर राजनीति भी शुरू हो गई है। इस बीच मायावती (Mayawati) ने एक बार फिर ट्वीट कर राज्य सरकार पर तीखा हमला बोलते हुए कहा कि बच्चों की मौत पर कांग्रेस (Congress) कतई भी संवेदनशील नजर नहीं आती है।

राजस्थान: कोटा में सैकड़ों बच्चों की मौत के बाद, एक और अस्पताल में 10 शिशुओं ने तोड़ा दम

बसपा सुप्रीमो (BSP Chief) मायावती ने अपने ट्विटर हैंडल (Twitter Handle) से ट्वीट कर लिखा, "राजस्थान की कांग्रेसी सरकार में कोटा में लगभग 105 मासूम बच्चों की हुई मौत अति चिन्ताजनक। लेकिन इसको लेकर कांग्रेस व इनकी सरकार कतई भी संवेदनशील नजर नहीं आती है। ऐसे में अच्छा होता कि इस मामले में, लोकतान्त्रिक संस्थायें आगे आकर, अपनी संवैधानिक जिम्मेदारी को निभातीं।"

कोटा: अब तक 100 बच्चों की मौत, अस्पताल का दौरा करेगी स्वास्थ मंत्रालय की टीम

इसके अलावा उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के गोरखपुर (Gorakhpur) में 2 साल पहले बच्चों की मौत पर मायावती ने कहा, "हालांकि यहां पूर्व में यूपी के गोरखपुर में हुई काफी बच्चों की दर्दनाक मौत से सबक सीखकर अब यूपी सरकार को भी अपने अस्पतालों की देखरेख हेतु काफी सतर्क रहना चाहिए। वरना फिर इनकी भी फजीहत राजस्थान की तरह ही होने में देर नहीं लगेगी।"

कोटा में 100 बच्चों की मौत पर लोकसभा स्पीकर ने लिया कांग्रेस सरकार को आड़े हाथ

मायावती ने सरकार व प्रियंका गांधी पर साधा निशाना
इससे पहले भी बसपा सुप्रीमो ने अपने ट्विटर हैंडल से एक के बाद एक तीन ट्वीट किया था। जिसमें उन्होंने घटना पर दुख जताया और साथ ही कांग्रेस पर निशाना साधा है। उन्होंने अपने पहले ट्वीट में कहा कि कांग्रेस शासित राजस्थान के कोटा जिले में हाल ही में लगभग 100 मासूम बच्चों की मौत से माओं का गोद उजड़ना अति-दुःखद व दर्दनाक है। फिर भी वहां के सीएम अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) स्वयं व उनकी सरकार इसके प्रति अभी भी उदासीन, असंवेदनशील व गैर-जिम्मेदार बने हुए हैं, जो अति-निन्दनीय है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.