Saturday, Jan 28, 2023
-->
bypoll: sp retains mainpuri; bjp, congress have two seats each in the assembly

सपा ने मैनपुरी पर कब्जा बरकरार रखा, भाजपा,कांग्रेस के खाते में विधानसभा की दो-दो सीट

  • Updated on 12/8/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। समाजवादी पार्टी (सपा) ने मैनपुरी लोकसभा सीट पर अपना कब्जा बरकरार रखा, जबकि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने उत्तर प्रदेश में रामपुर सदर विधानसभा सीट पर जीत दर्ज की और बिहार में कुढ़नी सीट नीतीश कुमार के नेतृत्व वाले सत्तारूढ़ महागठबंधन से छीन ली। पांच दिसंबर को हुए उपचुनावों के परिणामों की बृहस्पतिवार को घोषणा की गई। उत्तर प्रदेश में सत्तारूढ़ भाजपा खतौली विधानसभा सीट सपा की सहयोगी राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) से हार गई। कांग्रेस ने अपनी दो विधानसभा सीट-छत्तीसगढ़ में भानुप्रतापपुर और राजस्थान के चूरू जिले की सरदारशहर सीट पर कब्जा बरकरार रखा है। दोनों राज्यों में पार्टी (कांग्रेस) सत्ता में है।

बीजू जनता दल (बीजद) ने बरगढ़ जिले की पदमपुर विधानसभा सीट जीतकर ओडिशा में अपना वर्चस्व कायम रखा। पांच राज्यों में विधानसभाओं की छह सीटों पर हुए उपचुनाव में कांग्रेस और भाजपा ने बृहस्पतिवार को दो-दो, जबकि बीजद और रालोद ने एक-एक सीट पर जीत हासिल की। मैनपुरी लोकसभा सीट पर उपचुनाव में सपा प्रत्याशी डिंपल यादव ने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी भाजपा के रघुराज सिंह शाक्य को दो लाख 88 हजार 461 मतों के अंतर से हरा दिया। उत्तर प्रदेश की खतौली विधानसभा सीट पर उपचुनाव में सपा गठबंधन के सहयोगी रालोद के प्रत्याशी मदन भैया ने अपनी निकटतम प्रतिद्वंद्वी भारतीय जनता पार्टी की राजकुमारी सैनी को 22 हजार से अधिक मतों के अंतर से हराकर सत्तारूढ़ दल से यह सीट छीन ली।

निर्वाचन आयोग द्वारा घोषित परिणाम के मुताबिक, मदन भैया को 97,071 मत मिले, जबकि राजकुमारी को 74 हजार 996 वोट हासिल हुए। रामपुर विधानसभा सीट पर भाजपा प्रत्याशी आकाश सक्सेना ने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी सपा के आसिम राजा को हराया। भाजपा ने इस सीट पर पहली बार जीत हासिल की है। भाजपा ने बिहार में सत्तारूढ़ महागठबंधन से कुढ़नी सीट छीन ली। इस सीट पर हुए उपचुनाव में भाजपा उम्मीदवार केदार प्रसाद गुप्ता ने नीतीश कुमार की जनता दल (यूनाइटेड) के उम्मीदवार मनोज सिंह कुशवाहा को 3,645 मतों के अंतर से पराजित कर दिया। नीतीश कुछ ही महीने पहले भाजपा से अलग होकर महागठबंधन में शामिल हुए थे, जिसमें दूसरी प्रमुख पार्टी राष्ट्रीय जनता दल (राजद) है।

कुढ़नी सीट पर हुए कांटे के मुकाबले में गुप्ता को 76,653 मत प्राप्त हुए, जबकि कुशवाहा को 73,008 वोट मिले। इस सीट पर चुनाव कराने की जरूरत इसलिये पड़ी कि राजद के वर्तमान विधायक अनिल कुमार सहनी को अयोग्य घोषित कर दिया गया था। सत्तारूढ़ कांग्रेस ने राजस्थान की सरदारशहर विधानसभा सीट पर अपना कब्जा बरकरार रखा है। उपचुनाव में पार्टी के प्रत्याशी अनिल कुमार शर्मा ने 26,850 मतों के अंतर से जीत दर्ज की।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इस जीत को राज्य की सत्तारूढ़ कांग्रेस सरकार के पारदर्शी, संवेदनशील और जवाबदेह सुशासन और जनकल्याणकारी योजनाओं पर जनता की मुहर बताया। उल्लेखनीय है कि यह सीट कांग्रेस विधायक भंवर लाल शर्मा का निधन हो जाने के कारण रिक्त हुई थी, जो वहां से सात बार विधायक रहे। कांग्रेस ने दिवंगत शर्मा के बेटे अनिल कुमार को चुनाव मैदान में उतारा था। छत्तीसगढ़ में भानुप्रतापपुर विधानसभा सीट के लिए हुए उपचुनाव में सत्ताधारी दल कांग्रेस ने जीत दर्ज की है।

एक निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि कांग्रेस की उम्मीदवार सावित्री मंडावी ने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी भाजपा के ब्रह्मानंद नेताम को 21,171 मतों के अंतर से हराया है। अधिकारियों ने बताया कि इस उपचुनाव में मंडावी को 65,479 तथा भाजपा के नेताम को 44,308 वोट मिले। उन्होंने बताया कि निर्दलीय चुनाव लड़ने वाले भारतीय पुलिस सेवा के पूर्व अधिकारी अकबर राम कोर्रम को 23,417 वोट मिले। ओडिशा में बरगढ़ जिले की पदमपुर विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव में सत्तारूढ़ बीजद की उम्मीदवार वर्षा सिंह बरिहा ने भाजपा के प्रत्याशी प्रदीप पुरोहित को 42,679 मतों के अंतर से पराजित कर दिया। बरिहा, दिवंगत विधायक विजय रंजन सिंह बरिहा की बेटी हैं। विजय रंजन सिंह बरिहा के निधन के कारण इस सीट पर उपचुनाव कराने की जरूरत पड़ी। 

comments

.
.
.
.
.