Wednesday, Feb 19, 2020
caa protest bharat bandh bahujan kranti morcha jan adhikar party

CAA प्रदर्शन: भारत बंद का ऐलान, मुंबई लोकल ट्रेन रोकने पहुंचे प्रदर्शनकारी

  • Updated on 1/29/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (NRC) के खिलाफ कुछ संगठनों ने आज भारत बंद (Bharat Bandh) का आह्वान किया है। इसको देखते हुए यूपी, मुंबई समेत कई राज्यों ने सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए हैं। बहुजन क्रांति मोर्चा (Bahujan Kranti Morcha) और जन अधिकार पार्टी के सीएए- एनआरसी के विरोध में करने वाले इस बंद को सोशल मीडिया (Social Media) पर अन्य संगठनों का भी सहयोग मिल रहा है।

मुंबई (Mumbai) में बहुजन क्रांति मोर्चा के सदस्यों ने सीएए और एनआरसी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के दौरान कांजुरमार्ग स्टेशन (Kanjurmarg station) में एक रेलवे ट्रैक को ब्लॉक कर दिया। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के गोंडा में बंद का आंशिक असर देखने को मिल रहा है। 

शाहीन बाग पर धरना दे रहे प्रदर्शनकारी पहुंचे जंतर-मंतर

मुंबई में कई ट्रेनें रोकी गईं
सीएए और एनआरसी के खिलाफ कुछ संगठनों द्वारा बुलाए गए भारत बंद के तहत कांजुरमार्ग स्टेशन पर पटरियों पर विरोध प्रदर्शन के कारण बुधवार सुबह मुंबई में मध्य रेलवे (सीआर) की उपनगरीय रेल सेवाएं कुछ हद तक प्रभावित हुईं। पुलिस ने बताया कि कम से कम 100 प्रदर्शनकारी सुबह आठ बजे रेलवे स्टेशन की पटरियों पर जमा हो गए और सीएसएमटी की ओर जाने वाली धीमी गति की कई ट्रेनों को रोक दिया। प्रदर्शनकारियों ने नारे लगाए और राष्ट्रीय ध्वज लहराया। बाद में प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने वहां से हटा दिया और हिरासत में ले लिया।

CM उद्धव ठाकरे ने की फडणवीस-गडकरी की तारीफ, दिया विकास का श्रेय

ठाणे में कोई बंद का असर नहीं 
एक अधिकारी ने बताया कि व्यवधान के कारण सीआर लाइन पर ट्रेनें 10-15 मिनट देरी से चल रही हैं। सीआर के मुख्य पीआरओ शिवाजी सुतार ने कहा, 'हम लोगों से अनुरोध करते हैं कि वे ट्रेनों को न रोकें और उपनगरीय ट्रेनों के सुगम संचालन के लिए हमारा सहयोग करें।' बहुजन क्रांति मोर्चा सहित कई संगठनों ने हाल ही में पारित सीएए और प्रस्तावित एनआरसी के विरोध में भारत बंद का आह्वान किया है। इस बीच, ठाणे शहर और आसपास के क्षेत्रों में बंद का कोई असर नहीं देखा गया। पुलिस नियंत्रण कक्ष के एक अधिकारी ने कहा कि ठाणे में सार्वजनिक परिवहन सेवाएं सामान्य रूप से जारी हैं और दुकानें और शैक्षणिक संस्थान खुले हैं। उन्होंने कहा कि विभिन्न स्थानों पर पुलिसकर्मी तैनात हैं।

ममता सरकार ने शिक्षकों को दिया तोहफा, अब अपने जिले में पा सकेंगे तैनाती

देहरादून में शांतिपूर्ण प्रदर्शन
वहीं, देहरादून (Dehradun) में भी बंद रखने का आह्वान किया गया है। इस दौरान तंजीम-ए-रहनुमा-ए-मिल्लत ने लोगों से सीएए, एनआरसी और एनपीआर (NPR) के विरोध में अपने कारोबार बंद रखने की अपील की है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि सभी दुआ करे कि अल्लाह सरकार को इस काले कानून को वापस लेने की शक्ति दें।

बता दें कि CAA, NRC और EVM के विरोध में भारत बंद का आह्वान किया गया है। विरोध के अलावा पोस्‍टर में यह मांग भी उठाई जा रही है कि NRC, DNA के आधार पर लागू होना चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.