Thursday, Dec 08, 2022
-->
cag-reprimands-ongc-for-wasting-gas-worth-816-crores-rkdsnt

CAG ने 816 करोड़ की गैस व्यर्थ करने को लेकर ONGC को लगाई फटकार 

  • Updated on 12/21/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (कैग) ने मुंबई हाई फील्ड में 816 करोड़ रुपये की उच्च दबाव वाली गैस जलकर नष्ट होने को लेकर सार्वजनिक क्षेत्र की तेल एवं गैस कंपनी ओएनजीसी की खिंचाई की है।

जया बच्चन ने सपा नेताओं पर आयकर छापे को लेकर BJP सरकार पर बोला हमला

कैग की मंगलवार को संसद में पेश लेखा-परीक्षण रिपोर्ट के मुताबिक 2012-13 से लेकर 2019-20 के बीच ओएनजीसी के पास अतिरिक्त गैस कम्प्रेसर नहीं होने और बिजली सप्लाई ठप होने से मुंबई हाई फील्ड में 816 करोड़ रुपये की उच्च दबाव वाली गैस व्यर्थ हो गई थी।

निर्वाचन विधि (संशोधन) विधेयक से वोटरों की निजता से होगा समझौता: तृणमूल कांग्रेस

     उसने कहा है कि गैस उत्पादन बढ़ाने के लिए जरूरी है कि इसके लिए सभी जरूरी संसाधन सही जगह और सही स्थिति में मौजूद हों। लेकिन ऐसा नहीं होने से 2012-13 से लेकर 2019-20 के दौरान करोड़ों रुपये की उच्च दबाव वाली गैस जलकर नष्ट हो गई।   

मोदी सरकार ने भारत विरोधी 20 यूट्यूब चैनल, 2 वेबसाइट को ब्लॉक करने का दिया आदेश

  कैग ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि एक अन्य तेल कंपनी इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन ने आंध्र प्रदेश के बिक्री कर नियमों का उल्लंघन करते हुए उपभोक्ताओं से 262.60 करोड़ रुपये कारोबार कर की वसूली की थी। हालांकि बाद में उसने तेलंगाना सरकार को 65.65 करोड़ रुपये लौटाकर मामले को निपटा दिया लेकिन इस प्रक्रिया में उसे 196.95 करोड़ रुपये का अनुचित फायदा हुआ।      

दिल्ली में ओमीक्रोन के मामलों की संख्या बढ़कर 54 हुई : केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय


 

comments

.
.
.
.
.