Monday, Nov 29, 2021
-->
campaign-of-128-organizations-the-name-of-ghaziabad-will-change-in-yogi-raj-

128 संगठनों की मुहिम : योगी राज में बदलेगा गाजियाबाद का नाम !

  • Updated on 10/28/2021

नई दिल्ली/टीम डिजीटल। योगी राज में जनपद गाजियाबाद का नाम बदलने की मांग जोर-शोर से उठ रही है। इस मांग के समर्थन में अब तक 128 संगठन सामने आ चुके हैं। यह संगठन कुछ नामों का सुझाव दे चुके हैं। साहिबाबाद विधायक सुनील शर्मा भी विधान सभा में यह मुद्दा उठा चुके हैं। हालाकि सरकार की तरफ से अभी कोई सकारात्मक संकेत नहीं मिल पाए हैं, मगर संबंधित संगठनों को भरोसा है कि सरकार शीघ्र कोई सकारात्मक निर्णय ले लेगी। अगले कुछ माह में चुनाव आचार संहिता लागू हो जाएगी। विधान सभा चुनाव से पहले गाजियाबाद का नाम बदल पाएगा अथवा नहीं, इसे लेकर सियासी गलियारों में भी चर्चाओं का बाजार गरम है।

सुझाव गए कुछ नाम
गाजीउद्दीन के नाम पर जनपद गाजियाबाद का नाम पड़ा था। विभिन्न संगठनों को गाजियाबाद नाम पर कड़ी आपत्ति है। यह संगठन लंबे समय से गाजियाबाद का नाम बदलने की मांग कर रहे हैं। इन संगठनों ने कुछेक नाम भी सुझाए हैं। जिनमें हरनंदी नगर एवं दूधेश्वर नगरी इत्यादि प्रमुख हैं। प्राचीन हिंडन नदी को हरनंदी के नाम से जाना जाता है। जबकि श्री दूधेश्वर नाथ मठ भी गाजियाबाद शहर में ऐतिहासिक पहचान रखता है। कभी सिर्फ 4 गेट के भीतर गाजियाबाद का अस्तित्व हुआ करता था। आज इस जनपद की देश-दुनिया में अपनी अलग पहचान है। औद्योगिक नगरी के तौर पर भी इसे जाना जाता है। देश की राजधानी से सटा होने के कारण गाजियाबाद सियासी दृष्टिकोण से भी महत्वपूर्ण रहा है। गाजियाबाद का नाम बदलवाने की मुहिम से संदीप त्यागी रसम सक्रिय तौर पर जुड़े हैं। 

विधान सभा में भी उठ चुका मुद्दा
संदीप त्यागी ने पहले कुछ नागरिकों और फिर कुछ संगठनों को इस मांग के समर्थन में एकजुट किया था। आज 128 संगठन चाहते हैं कि गाजियाबाद का नाम बदल जाए। वह बताते हैं कि साहिबाबाद विधायक सुनील शर्मा ने विधान सभा में इस मांग को उठाया था। जिस पर सदन ने सकारात्मक रूख दिखाया। संदीप त्यागी के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल ने भाजपा के महानगराध्यक्ष संजीव शर्मा से भी मुलाकात की। संजीव शर्मा ने इस मुद्दे को लेकर निकट भविष्य में पार्टी के शीर्ष नेतृत्व से चर्चा करने का आश्वासन दिया है। अशोक भारतीय, बालकिशन गुप्ता, प्रदीप चौधरी, वीरेंद्र कुमार आदि भी इस मुहिम का हिस्सा हैं। इन संगठनों को उम्मीद है कि योगी राज में जल्द से जल्द गाजियाबाद का नाम बदल जाएगा।
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.