Wednesday, Aug 04, 2021
-->
car and train run magnetic energy anjsnt

वैज्ञानिक ने अपनी किताब में किया दावा! भविष्य में बिना ईंधन के होगी हजारों मील की यात्रा

  • Updated on 6/6/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। इस वक्त हवा में घुलता प्रदुषण नाम का जहर धीरे धीरे हमें अंधकार की और लेकर जा रहा है ऐसे में हमे एक ऐसे वाहनों की आवश्यकता है जिसे चलाने के लिए पेट्रोल और डीजल की जरुरत न पड़ें।ऐसे में हम एक ऐसा तरीका खोजकर ले आए हैं जिससे आपकी जिंदगी बिल्कुल बदल जाएगी।

आपको बता दें कि इस वक्त साइंटिंस्ट चुंबकीय ऊर्जा से वाहन चलाने की कोशिश कर रहे हैं।इस सिलसिल में आज से 10 साल पहले एक जाने माने वैज्ञानिक चिंतक और मिशियो ने एक किताब लिखी जिसमें आने वाले समय में जिंदगी कैसे बदल जाएगी।इसी किताब में उस ऊर्जा के बारे में बताया गया है जिसमें भविष्य में वाहन चलेंगे। 

Whatsapp यूजर्स हो जाए सावधान! नहीं तो चोरी हो जाएगा आपका डेटा

बिना ईंधन के होगी हजारों मील की यात्रा
वैज्ञानिक की मानें तो 2050 तक दुनिया में एक ऐसी तकनीक सामने आएगी। जिसकी मदद से हजारों मील का सफर तय करने के लिए ईधन की कोई जरुरत नहीं होगी। उस वक्त कार  बस ट्रेन या ऐसा कहें कि सभी वाहन चुंबकीय तरंगों के साथ दौड़ेगे। 

हाल ही में हुई रिसर्च में खुलासा हुआ कि उस वक्त सेरेमिक ही भविष्य का सुपर कंडक्टर्स बनने वाला है। ये ही है वो जिसकी मदद से आपका सफर सस्ता और सुविधाजनक होगा। सबसे अच्छा ये है कि इससे कोई प्रदूषण नहीं होगा।

...तो क्या ट्रू कॉलर ने बेच दिए पौने पांच करोड़ भारतीयों के डाटा?

खत्म हो जाएंगे ऊर्जा के प्राकृतिक संसाधन

वैज्ञानिक की किताब  की बात करें तो साल 2100 तक पृथ्वी के सभी स्त्रोत खत्म महो जाएंगे। जिसके कारण सिर्फ हमारे पास सौर ऊर्जा ही बचेगी और उसका महत्व बढ़ जाएगा। अभी हम  14 से 15 ट्रिलियन वॉट पावर का इस्तेमाल कर रहे हैं। जो काफी ज्यादा है। आइए जानते हैं कि इस वक्त हम कितना कौन सा स्तोत इस्तेमाल करते हैं। 

आयल                                33 फीसदी

कोयला                               25 फीसदी

गैस                                    20 फीसदी

नाभिकीय                          08 फीसदी 

बॉयोमॉस                           15 फीसदी 

सोलर                                05 फीसदी 

आपको बता दें कि ये सभी आंकडे़  उस वक्त के हैं जब किताब लिखी गई थी यानि के ये 2010 में हम किस स्त्रोंत का कितना इस्तेमाल करते हैं।
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.