Monday, Jun 27, 2022
-->
case filed against sharjeel usmani

शरजील उस्मानी के खिलाफ मामला दर्ज, हिंदुओं के खिलाफ भड़काऊ भाषण देने का आरोप

  • Updated on 2/3/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (AMU) के भूतपूर्व छात्र शर्जील उस्मानी (Sharjeel Usmani) पर हिंदुओं के खिलाफ भड़काऊ भाषण देने के आरोप में मंगलवार को पुणे में एक मामला दर्ज किया गया है। उस्मानी ने एल्गार परिषद के हाल में एक आयोजन के दौरान अपने भाषण के जरिए अलग-अलग समुदायों के बीच शत्रुता को कथित रूप से बढ़ाना देने वाला भाषण दिया। जिसके बाद महाराष्ट्र में विपक्षी दल बीजेपी ने उस्मानी पर हिंदुओं की भावनाओं को आहत करने का आरोप लगाते हुए उसके खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

दिल्ली: कई हिंसक घटनाओं का गवाह है लालकिला

आईपीसी की धारा 153-A के तहत मामला दर्ज
उस्मानी के खिलाफ यह मामला भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा 153-A के तहत पुणे के स्वारगेट थाने में दर्ज किया गया है। उस्मानी के खिलाफ केस दर्ज करने की शियाकय भारतीय युवा जनता मोर्चा के क्षेत्रीय सचिव प्रदीव गावडे ने की थी, जिसके बाद पुलिस ने उस्मीनी के खिलाफ मामला दर्ज किया।

आयोजकों के खिलाफ भी मामला दर्ज करने की मांग
प्रदीप गावडे ने कहा, हमने पुलिस से अनुरोध किया है कि उसके खिलाफ आईपीसी की धारा 124-ए, के तहत मामला दर्ज करे, क्योंकि उसने स्पष्ट रूप से कहा था कि वह भारतीय राज्य, संसद और न्यायपालिका में विश्वास नहीं करता। हमने यह भी कहा कि एल्गर परिषद के आयोजकों के खिलाफ भी मामला दर्ज किया जाना चाहिए।

Tractor Rally Violence: उपद्रवी किसानों ने लाल किले से लूटे पुलिस के हथियार, सामने आई तस्वीर

बीजेपी ने उद्धव ठाकरे से की ये मांग
शर्जील उस्मानी का भड़काऊ भाषण सामने आने के बाद बीजेपी ने इसका सख्त विरोध किया है। राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष देवेंद्र फडणवीस ने सीएम उद्धव ठाकरे को पत्र लिखकर मामले में जल्द से जल्द कर्रावाई की मांग की है। उन्होंने पत्र में लिखा, 'हिन्दवी स्वराज्य के संस्थापक छत्रपति शिवाजी महाराज के महाराष्ट्र में कोई भी आए और यहां का माहौल खराब करके चला जाए, यह हमें स्वीकार नहीं है। उस्मानी नामक व्यक्ति दुर्भावना से महाराष्ट्र में आकर हिन्दू समाज को अपमानित करता है और उसके ऊपर अभी तक कोई कानूनी कार्रवाई नहीं की जाती है, यह चिंता का विषय है।' 

कौन है शर्जील उस्मानी और क्या कहा
उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिले के सिधारी में रहने वाला शर्जील उस्मानी पूर्व में एएमयू का छात्र रहा है। उस्मानी इससे पहले सीएए-एनआरसी और एनपीआर का पूरजोर विरोध करने वालों में से एक रहा है। उस्मानी को बीते साल दिसंबर माहिने में गिरफ्तार भी किया जा चुका है। पुणो में 31 जनवरी को आयोजित एल्गार परिषद में इसने कहा था कि भारत में हिंदू समाज सड़ चुका है। ये लोग आए दिन लिंचिग करते हैं, कत्ल करते हैं, लेकिन इन सब के बाद भी नॉर्मल लाइफ जीते हैं। उस्मानी यहीं नहीं रुका वो अपने भाषण के दौरान लगातार हिंदू समुदाय की भावनाओँ का अपमान करता गया।

यहां पढ़ें अन्य बड़ी खबरेें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.