Saturday, Oct 01, 2022
-->
cbi-in-ponzi-scam-case-bengal-education-minister-chatterjee-summoned-rkdsnt

CBI ने पोंजी घोटाला मामले में प. बंगाल के शिक्षा मंत्री चटर्जी को किया तलब

  • Updated on 3/12/2021

​​​नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। सीबीआई ने आईकोर ग्रुप ऑफ कंपनीज से जुड़े पोंजी घोटाला मामले की जांच के संबंध में पश्चिम बंगाल के शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी को तलब किया है। अधिकारियों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के करीबी माने जाने वाले चटर्जी को 15 मार्च को कोलकाता कार्यालय में सीबीआई टीम के समक्ष पेश होने को कहा गया है। 

धार्मिक स्थलों से जुड़े कानून के खिलाफ याचिका पर मोदी सरकार से मांगा जवाब

अधिकारियों ने कहा कि सीबीआई ने निवेश पर उच्च लाभ देने की पेशकश कर लोगों से कथित तौर पर 3,000 करोड़ रुपये जुटाने के मामले में आईकोर समूह के खिलाफ मामला दर्ज किया था। समूह पर एकत्र किए गए धन के हिस्सों को अन्य स्थानों पर लगाने और लाभ के साथ रकम वापस करने के वादे से मुकरने का आरोप है। इस बीच, चटर्जी ने कहा उन्हें अब तक सीबीआई से इस तरह को कोई नोटिस प्राप्त नहीं हुआ है। 

यूपी, हरियाणा के बाद संयुक्त किसान मोर्चा ने बंगाल में BJP के खिलाफ खोला मोर्चा

उन्होंने कहा,‘’अगर मुझे बुलाया जाता है तो मैं निश्चित तौर पर जाऊंगा। मैं मंत्री होने के नाते किसी भी जनसभा में उपस्थित हो सकता हूं। याद रखें कि राजनीति में शामिल होने के लिए मैं बेहद आकर्षक नौकरी छोड़ चुका हूं और मुझे पैसे का कोई लालच नहीं है।‘‘ चटर्जी पूर्व में आईकोर समूह द्वारा आयोजित कई सार्वजनिक कार्यक्रमों में कथित तौर पर उपस्थित रहे थे।    

जांच एजेंसी ने 2014 में इस मामले को अपने हाथों में ले लिया था और कंपनी के खिलाफ आपराधिक साजिश एवं धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया था। उच्चतम न्यायालय ने 2014 में सीबीआई को चिटफंड संबंधी उन सभी मामलों की जांच अपने हाथ में लेने का निर्देश दिया था, जिनकी जांच राज्य पुलिस द्वारा की जा रही थी। 

अभिषेक बनर्जी की रिश्तेदार के सदस्यों को समन
सीबीआई ने तृणमूल कांग्रेस के सांसद अभिषेक बनर्जी की रिश्तेदार मेनका गंभीर के परिवार के दो सदस्यों को उस करोड़ों रुपये के कोयला चोरी मामले के सिलसिले में शुक्रवार को समन जारी किये जिसकी जांच केंद्रीय जांच एजेंसी द्वारा की जा रही है। यह जानकारी सूत्रों ने दी। सूत्रों ने बताया कि बनर्जी की पत्नी की बहन मेनका गंभीर के पति अंकुश अरोड़ा और अंकुश के पिता पवन अरोड़ा को पूछताछ के लिए 15 मार्च को सीबीआई के समक्ष पेश होने को कहा गया है। 

राहुल गांधी बोले- अधिनायकवादी ताकतों की गिरफ्त में जा रहा है भारत, निशाने पर RSS

केन्द्रीय जांच एजेंसी ने बनर्जी की पत्नी रुजिरा और पत्नी की बहन मेनका गंभीर से घोटाले में उनकी कथित संलिप्ता को लेकर फरवरी के आखिर सप्ताह में पूछताछ की थी। बनर्जी पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे हैं। सूत्रों के अनुसार, गंभीर ने पूछताछ के दौरान सीबीआई को बताया कि उन्हें कुछ भी पता नहीं है और उनके पति और ससुर को पता था कि क्या हो रहा है। एजेंसी को घोटाले के सरगना अनूप मांझी उर्फ लाला की तलाश है, जो फरार है। उसके खिलाफ लुकआउट सर्कुलर भी जारी किया गया है। 

CBI डायरेक्टर की नियमित नियुक्ति संबंधी याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र से मांगा जवाब

सीबीआई ने शहर और राज्य के आसनसोल और रानीगंज में स्थित माझी के कई परिसरों पर छापे मारे थे।     जांच एजेंसी का मानना है कि ईस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड से संबंधित अवैध खनन हजारों करोड़ रुपये का है और यह कि इस अपराध से अर्जित धन का कुछ हिस्सा हवाला के माध्यम से लेन-देन किया गया था, जिसके लिए प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) भी जांच में शामिल हो गया है। 28 नवंबर, 2020 को, सीबीआई ने कोयला चोरी के मामले में 45 अलग-अलग जगहों पर छापे मारे थे जिसमें पश्चिम बंगाल में स्थित जगह भी शामिल थे।    

 

 

 

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें... 

 

 

 

  •  
Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.