Wednesday, Feb 01, 2023
-->
cbi-issues-look-out-circular-notice-against-all-accused-in-yes-bank-scam

YES बैंक घोटाले में CBI ने सात आरोपियों के खिलाफ जारी किया लुक आउट सर्कुलर नोटिस

  • Updated on 3/9/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। सीबीआई (CBI) ने सोमवार को यस बैंक घोटाले (Yes Bank) के मामले में उसके सह-संस्थापक राणा कपूर और उनके परिवार के सदस्यों समेत सात आरोपियों के खिलाफ लुक आउट सर्कुलर (Look Out Circular) जारी किया ताकि वे देश छोड़कर नहीं जा सकें। अधिकारियों ने बताया कि एजेंसी ने कपूर, उनकी पत्नी बिंदु और बेटियों रोशनी, राखी तथा राधा के साथ ही डीएचएफएल के कर्ताधर्ता कपिल वधावन तथा आरकेडब्ल्यू डवलपर्स के प्रमोटर धीरज वधावन के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

Yes Bank Crisis : राणा कपूर और दीवान हाउसिंग के वित्तीय लिंक खंगालने में जुटी CBI

उन्होंने कहा कि सातों आरोपियों को देश छोड़ने के प्रयासों से रोकने के लिए उनके खिलाफ एलओसी जारी किया गया है। अधिकारियों के अनुसार प्रवर्तन निदेशालय ने भी एलओसी जारी किया जिसके आधार पर कपूर की बेटी रोशनी को मुंबई के सीएसएम अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर लंदन जाने से रोक लिया गया।

आपराधिक साजिश रची
साथ ही यस बैंक (Yes Bank) के सह-संस्थापक राणा कपूर, दीवान हाउसिंग (DHFL), डीओआईटी अर्बन वेंचर्स कंपनी और डीएचएफएल के प्रवर्तक निदेशक कपिल वधावन (Kapil Wadhawan) के खिलाफ सीबीआई ने आपराधिक षडयंत्र, धोखाधड़ी और भ्रष्टाचार के आरोप में FIR दर्ज की है। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। एजेंसी ने आरोप लगाया कि कपूर ने यस बैंक के जरिए DHFL को वित्तीय सहायता देने के लिए वधावन के साथ मिलकर आपराधिक साजिश रची। इसके बदले में अपने लिए और अपने परिवार के सदस्यों के लिए उनकी कंपनियों के मार्फत अनुचित फायदा लेने की कोशिश की। 

कांग्रेस ने बीमा प्रीमियम बढ़ाने के प्रस्ताव को लेकर मोदी सरकार पर साधा निशाना

बीती रात हुआ गिरफ्तार
उन्होंने कहा कि कपूर को पिछली रात प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने गिरफ्तार किया जिसने शनिवार को सीबीआई द्वारा दर्ज FIR के आधार पर धनशोधन निवारण अधिनियम के तहत केस दर्ज किया था। सीबीआई की प्राथमिकी के अनुसार घोटाला अप्रैल से जून 2018 के बीच शुरू हुआ था, जब यस बैंक ने घोटालाग्रस्त दीवान हाउसिंग वित्त निगम लिमिटेड के अल्पावधि ऋणपत्र में 3700 करोड़ रुपये का निवेश किया था।

comments

.
.
.
.
.