Tuesday, Aug 03, 2021
-->
cbse-board-will-help-schools-with-it-for-12th-result-kmbsnt

12वीं का रिजल्ट जारी करने में CBSE बोर्ड स्कूलों को देगा IT System की मदद

  • Updated on 6/19/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के परीक्षा नियंत्रक डॉ सैयम भारद्वाज ने 12वीं कक्षा के छात्रों के मूल्यांकन के लिए शुक्रवार को बोर्ड के संबद्ध स्कूलों के प्रिंसिपलों को दिशा निर्देश जारी कर दिए हैं। जिसमें भारद्वाज ने कहा है कि मूल्यांकन नीति के तहत बोर्ड ने फैसला लिया है वह स्कूलों रिजल्ट कमेटी को रिजल्ट तैयार करने में मदद करेगा।

इसके लिए स्कूलों के भीतर अगले 1 सप्ताह में एक आईटी सिस्टम की स्थापना की जाएगी। जिससे स्कूलों को कम समय में गणना कर परिणाम तैयार करने में मदद मिलेगी। इस IT सिस्टम में बोर्ड के दसवीं उत्तीर्ण बच्चों के अंक पहले ही दर्ज होंगे। स्कूलों को सिर्फ अन्य बोर्ड से दसवीं उत्तीर्ण कर सीबीएसई बोर्ड में आए छात्रों के दसवीं के अंक अपलोड करने होंगे। साथ ही इसकी एक सॉफ्ट कॉपी भी रखनी होगी।

दंगा मामले में हाई कोर्ट के फैसले ने आतंकवाद विरोधी कानून को ‘‘उलट’’ दिया : दिल्ली पुलिस 

हेल्प डेस्क भी होगा स्थापित 
स्कूलों में रिजल्ट तैयार करने का काम सरलता से होता रहे इसके लिए बोर्ड स्कूल परिसर में एक हेल्प डेस्क भी स्थापित करेगा। यह हेल्प डेस्क स्कूलों में अगले हफ्ते से काम करना शुरू कर देंगे। स्कूलों के लिए IT सिस्टम से दसवीं की गणना तो आसान हो गई, लेकिन छात्रों की 11वीं की वार्षिक परीक्षा में थ्योरी में मिले अंकों को स्कूल गणना कर तैयार रखेंगे। साथ ही इनकी एक सॉफ्ट कॉपी भी बनानी होगी।

12वीं कक्षा में मिले इन नंबरों की करनी होगी गणना 
इसी तरह स्कूलों को 12वीं कक्षा में यूनिट टेस्ट में थ्योरी के अंक, मिड-टर्म में थ्योरी के अंक, प्री बोर्ड में थ्योरी के अंक की गणना करनी होगी। इनकी भी एक सॉफ्ट कॉपी रखनी होगी। 21 जून से स्कूलों को एक पोर्टल मिलेगा, जिस पर स्कूलों को दसवीं कक्षा के छात्रों के रोल नंबर, बोर्ड ईयर और पूरा सही डाटा भरना होगा। इस डाटा को संशोधित करने का भी समय स्कूलों को दिया जाएगा।

CBI देशमुख के खिलाफ FIR के जरिए रश्मि शुक्ला मामले में दखल दे रही : महाराष्ट्र सरकार

बोर्ड स्कूलों को एक वेबीनार से भी जोड़ेगा
इसके अलावा गणना करने के लिए सॉफ्टवेयर के अन्य मॉड्यूल का भी इस्तेमाल कराया जाएगा। स्कूलों द्वारा जारी रिजल्ट कमेटी गठित की जाएगी। स्कूलों को इसके लिए बोर्ड द्वारा जारी की गई मूल्यांकन नीति को सही से पढ़ना होगा। बोर्ड स्कूलों को एक वेबीनार से भी जोड़ेगा, जिसके लिए जल्द सूचित किया जाएगा। परीक्षा नियंत्रक डॉ संयम भारद्वाज ने कहा कि हमारे आईटी सिस्टम के साथ मिलकर स्कूल जल्द से जल्द रिजल्ट जारी करने में सक्षम होंगे। यह सब के लिए एक उदाहरण भी बनेगा। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.