Thursday, Feb 27, 2020
cbse examinations begin from today all the best to students

ऑल द बेस्ट... CBSE की परीक्षा आज से, 30 मार्च तक चलेंगे Exams

  • Updated on 2/15/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) की दसवीं व बारहवीं की परीक्षाएं आज यानि शनिवार से आयोजित की जा रही हैं। जहां कक्षा दसवीं की परीक्षा 15 फरवरी से 20 मार्च तक चलेंगी, वहीं कक्षा बारहवीं की परीक्षा 15 फरवरी से 30 मार्च तक आयोजित की जाएंगी। जिसके लिए सीबीएसई की ओर से सुचारू प्रबंध किए गए हैं। इस बाबत अभिभावकों व छात्रों के नाम सीबीएसई के सचिव अनुराग त्रिपाठी ने संदेश जारी करते हुए कहा कि अभिभावक ङ्क्षचता नहीं बल्कि छात्रों को निरंतर सहयोग, मार्गदर्शन व प्रोत्साहित करें, ताकि वो सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर पाएं। 

आयुष्मान भारत पर वेटिंग का अड़ंगा, एम्स आ रहे हैं दूसरे राज्यों के लाभार्थी

अभिभावक चिंता नहीं बल्कि छात्रों को करें प्रोत्साहित : अनुराग त्रिपाठी
बता दें कि इस साल दसवीं में कुल 1889878 और कक्षा बारहवीं में 1206893 अभ्यर्थी परीक्षा देंगे। जिसमें 10वीं कक्षा में 788195 लड़कियां व 1101664 लड़के और 19 ट्रांसजेंडर हैं। जबकि 12वीं कक्षा में 522819 लड़कियां, 684068 लड़के और 6 ट्रांसजेंडर हैं। वहीं चिल्ड्रन विद स्पेशल नीड्स की श्रेणियों के तहत अभ्यॢथयों की कुल संख्या भारत में 10वीं में 6844 व 12वीं में 3718 हैं। ऐसे ही विदेशी विद्यालयों में पंजीकृत अभ्यॢथयों की संख्या 10वीं में 216 और 12वीं 126 है। परीक्षाओं के सुचारू संचालन के लिए, बोर्ड ने कक्षा 10 के लिए 5376 और कक्षा 12 के लिए 4983 परीक्षा केंद्र बनाए हैं। इस साल भारत में कक्षा 10 के लिए विद्यालयों की संख्या 20398 और कक्षा 12 के लिए 13119 हैं। 

शाहीन बाग प्रदर्शन में पहुंचे अनुराग कश्यप, बिरयानी खाकर मोदी सरकार पर बरसे

12वीं की 15 फरवरी से 30 मार्च तक चलेंगी परीक्षाएं
विदेश स्थित विद्यालयों में कक्षा 10 के लिए 79 और कक्षा 12 के लिए 72 केंद्र हैं। कक्षा 10 के लिए विदेश स्थित विद्यालयों की संख्या 193 और कक्षा 12 के लिए 143 है। जिनमें सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों के 10वीं के अभ्यर्थियों की संख्या 17158 व 12वीं के कुल अभ्यर्थी 14340 है। वहीं सरकारी स्कूलों के अभ्यर्थियों की संख्या कक्षा 10 में 224393 है और कक्षा 12 में 158095 है। जबकि स्वतंत्र रूप से सीबीएसई परीक्षा देने वाले दसवीं के अभ्यर्थी 1512282 हैं व बारहवीं में 936480 अभ्यर्थी हैं। 

डॉ. कफील पर लगाई रासुका, मथुरा की जेल से नहीं हो सकी रिहाई

सशस्त्र बलों व अर्ध सैन्य बलों के शहीदों के बच्चों को छूट
मालूम हो कि पुलवामा हमले के मद्देनजर साल 2019 में सीबीएसई ने सशस्त्र बलों और अर्ध-सैन्य बलों के शहीदों के बच्चों को छूट दी थी। इसी तरह इस वर्ष भी सीबीएसई ने सशस्त्र व पैरा मिलिट्री के इस अवधि के दौरान शहीद कार्मिकों के बच्चों को छूट दी है। वो उसी शहर या अन्य शहर में परीक्षा केंद्र में परिवर्तन करवा सकते हैं। प्रैक्टिकल परीक्षा छूट जाने पर 2 अप्रैल तक की अनुमति दी जाएगी। यदि किसी विषय में वो बाद में परीक्षा में शामिल होना चाहते हैं तो इसकी भी अनुमति उन्हें दी जाएगी।

राजनीति में अपराधीकरण पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले से चुनाव आयोग भी खुश

छात्र किन बातों का रखें ध्यान -

- परीक्षा के दिन परीक्षा केंद्र पर पौने 10 बजे तक पहुंचे क्योंकि 10 बजे के बाद विद्याॢथयों को अंदर आने की अनुमति नहीं दी जाएगी। 
- विद्यालय की वर्दी छात्र पहनकर जाएं और विद्यालय का पहचान पत्र भी सीबीएसई बोर्ड द्वारा मिले अनुक्रमांक के साथ ही रखें।
- केवल पारदर्शी थैली में ऐसी स्टेशनरी ही लेकर जाएं जिसकी अनुमति हो। 
- सेलफोन, वॉलेट, पर्स, चिट, कागज के टुकड़े, पुराने प्रश्नपत्र सहित अनुचित साधनों को लेकर नहीं जाएं। 
- छात्र परीक्षा हॉल में सभी निर्देशों का पालन करें व अनुशासन में रहकर परीक्षा दें। 
- प्रश्नपत्र ध्यान से पढ़े और उत्तरपुस्तिका में दिए गए निर्देशों का पालन करें व सटीक और संगत विवरण भरें।
- छात्र अफवाहों पर विश्वास करने या इसे फैलाने से बचें।
- कोई भी संदेहास्पद गतिविधि/अफवाह मिलने पर अभिभावकों व सीबीएसई के संज्ञान में लाएं।

comments

.
.
.
.
.