Tuesday, Jun 28, 2022
-->
CBSE warns about fake news of grace marks in class 12th exam

सीबीएसई ने 12वीं कक्षा की परीक्षा में ग्रेस अंक की फर्जी खबरों को लेकर किया आगाह

  • Updated on 12/14/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने सोशल मीडिया पर वायरल हो रही एक फर्जी ऑडियो के खिलाफ मंगलवार को छात्रों को आगाह किया है। जिसमें दावा किया गया है कि 12वीं कक्षा की अकाउंटेंसी की परीक्षा में त्रुटि के कारण छात्रों को ग्रेस अंक दिए जाएंगे। बोर्ड ने एक आधिकारिक बयान में कहा यह बोर्ड के संज्ञान में लाया गया है कि परीक्षा नियंत्रक के नाम से एक ऑडियो संदेश का कथित हवाला देते वाली फर्जी रिपोर्ट प्रसारित हो रही है।

नर्सरी दाखिला: आज स्कूलों के मानदंड अपलोड करने का आखिरी दिन

13 दिसम्बर को आयोजित हुई अकाउंटेंसी की परीक्षा को लेकर वायरल हुआ है संदेश
जिसमें दावा किया गया है कि 12वीं कक्षा के अकाउंटेंसी की पहली टर्म की 13 दिसंबर को हुई परीक्षा में 6 ग्रेस अंक तक दिए जाएंगे। बोर्ड ने कहा कि खबरों में प्रकाशित सामग्री पूरी तरह निराधार और झूठी है। किसी भी संवाददाता ने इस संबंध में परीक्षा नियंत्रक, सीबीएसई से बात नहीं की और बोर्ड ने ऐसा कोई फैसला नहीं लिया है। अत: सीबीएसई जनता को अपने निहित स्वार्थों वाली ऐसी अपुष्ट खबरों के जाल में न फंसने को लेकर आगाह करती है।

विवाद के बाद सीबीएसई ने 10वीं की परीक्षा के कुछ प्रश्नों को हटाया, पूरे अंक दिए जाएंगे

इससे पहले लैंगिक रूढ़िवादिता को लेकर हुआ था विवाद 
कथित ऑडियो संदेश में नियंत्रक ने कहा कि छात्रों चिंता मत करो, अगर आपने 31 सवालों में से 28 का सही जवाब दिया है तो आपको करीब 38 अंक मिलेंगे। सीबीएसई छात्रों को छह ग्रेस अंक तक देगी। इससे एक दिन पहले बोर्ड ने 10वीं कक्षा की एक परीक्षा के प्रश्न पत्र में लैंगिक रूढि़वादिता और प्रतिगामी नियमों पर आलोचनाएं होने के बाद कहा था कि उसने परीक्षा के पर्चे से विशेष गद्यांश और उससे जुड़े प्रश्नों को हटा दिया गया है और वह उक्त प्रश्नों के लिए छात्रों को पूर्ण अंक प्रदान करेगा। बोर्ड ने प्रश्नपत्र तैयार करने की प्रक्रिया की पूरी समीक्षा करने और उसे मजबूत करने के लिए एक समिति गठित करने की भी घोषणा की थी।
 

comments

.
.
.
.
.