Thursday, Jun 30, 2022
-->
cbse will not charge registration examination fee from 10th-12th students lost parents by covid

कोविड से अभिभावक खो चुके 10वीं-12वीं के छात्रों से सीबीएसई नहीं लेगा पंजीकरण और परीक्षा शुल्क

  • Updated on 9/21/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) परीक्षा नियंत्रक डॉ. संयम भारद्वाज ने एक बयान में कहा कि बोर्ड ने हाल ही में स्कूलों से 10वीं-12वीं बोर्ड परीक्षा में बैठने जा रहे छात्रों की सूची मांगी है। जिसे 30 सितम्बर तक स्कूल बिना विलंब शुल्क और एक अक्तूबर से 9 अक्तूबर तक विलंब शुल्क के जमा कर सकेंगे।

जेएनयू में 25 एकड़ में बनेगा मेडिकल कॉलेज

मुख्य अभिभावक खो चुके 10वीं-12वीं छात्रों को नहीं देनी होगी कोई फीस 
कोरोना महामारी को देखते हुए जिसका पूरे देश पर बहुत गहरा प्रभाव पड़ा है। बोर्ड से संबद्ध स्कूलों के छात्रों ने भी इसकी पीड़ा सही है। इसलिए बोर्ड ने ये निर्णय लिया है कि अकादमिक सत्र 2021-22 के लिए 10वीं-12वीं कक्षा के ऐसे छात्र- छात्राएं जिन्होंने अपना मुख्य अभिभावक, गार्जियन, माता-पिता कोरोना महामारी के कारण खो दिए हैं उन्हें बोर्ड पंजीकरण और परीक्षा फीस में छूट देगा।

सीबीएसई शिक्षा पुरस्कार 2020-21 से 22 शिक्षक हुए सम्मानित

स्कूलों से बोर्ड ने मांगी ऐसे छात्रों की जानकारी 
बोर्ड ने स्कूलों को छात्रों की सूची भेजने के दौरान ऐसे बच्चों की जानकारी इकट्ठी कर सत्यता की जांच करने के लिए कहा है। ताकि ऐसे बच्चों को इस नई घोषणा का लाभ दिया जा सके। इससे बच्चों की आगामी शिक्षा में पैसे के कारण रुकावट नहीं आएगी। 

comments

.
.
.
.
.