Thursday, Feb 09, 2023
-->
center postpones privatization of central electronics after employees union stand rkdsnt

कर्मचारी यूनियन के रुख के बाद केंद्र ने सेंट्रल इलेक्ट्रॉनिक्स के निजीकरण की योजना टाली

  • Updated on 1/12/2022

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। केंद्र की मोदी सरकार ने कर्मचारी यूनियन के अदालत का रुख करने के बाद सेंट्रल इलेक्ट्रॉनिक्स लि. (सीईएल) को एक कम र्चिचत कंपनी को बेचने की योजना टाल दी है। एक शीर्ष अधिकारी ने बुधवार को यह जानकारी दी।

मौर्य के बाद यूपी के वन मंत्री दारा सिंह चौहान ने दिया भाजपा को झटका

निवेश एवं लोक संपत्ति प्रबंधन विभाग (दीपम) के सचिव तुहिन कांत पांडेय ने बुधवार को कहा कि नंदल फाइनेंस एंड लीजिंग द्वारा लगाई गई 210 करोड़ रुपये की सबसे ऊंची बोली में कम मूल्यांकन के आरोप की जांच की जा रही है। दीपम ही सार्वजानिक क्षेत्र की कंपनियों के निजीकरण की प्रक्रिया को देखता है। 

‘दीमक की तरह’ गुपचुप तरीके से पूरी व्यवस्था बिगाड़ रहा है RSS : दिग्विजय सिंह

पांडेय ने बताया कि सीईएल में सरकार की 100 प्रतिशत हिस्सेदारी की बिक्री के लिए नंदल फाइनेंस एंड लीजिंग को अभी आशय पत्र जारी नही किया गया है और कम मूल्यांकन के आरोपों की जांच की जा रही है।

धर्म संसद में नफरती भाषण देने का मामला: सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र, पुलिस को जारी किया नोटिस

गौरतलब है कि सरकार ने नवंबर में वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान विभाग (डीएसआईआर) के तहत नंदल फाइनेंस एंड लीजिंग को 210 करोड़ रुपये में सीईएल को बिक्री की मंजूरी दी थी। निजीकरण के इस लेनदेन को मार्च, 2022 तक पूरा किया जाना था।

उत्तराखंड में सिसोदिया ने शुरू किया AAP का Door to Door अभियान, टिहरी बांध विस्थापितों से मिले


 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.