Tuesday, Jun 22, 2021
-->
center should not bluntly discuss kejriwals suggestion pm is constantly monitoring albsnt

केजरीवाल के सुझाव पर केंद्र का दो टूक- न करें सस्ती राजनीति, PM लगातार कर रहे मॉनिंटरिंग

  • Updated on 4/23/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दिल्ली में कोरोना वायरस के लगातार खराब स्थिति पर आज पीएम नरेंद्र मोदी ने सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से वर्चुअल मीटिंग की है। जिसमें दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने हिस्सा लेते हुए सरकार को कुछ सुझाव दिये। जिसकी अब आलोचना हो रही है।

PM मोदी के सामने हाथ जोड़ने लगे केजरीवाल , बोले- सर तबाह हो जाएगा देश...

बता दें कि केंद्र सरकार ने साफ किया है कि केजरीवाल ने इस बैठक में प्रोटोकाल का पालन नहीं किया है। दरअसल वे सस्ती राजनीति के लिये मुद्दे को आधारहीन की तरह पेश किया। जो बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है। इससे पहले सीएम केजरीला ने दिल्ली में ऑक्सीजन के प्लांट नहीं होने से हो रही दिक्कतों का हवाला दिया। जिसमें उन्होंने कहा कि कई राज्य दिल्ली को ऑक्सीजन सप्लाई को बाधित करने का प्रयास कर रहे है जो सही नहीं है। 

कोरोना संकट के बीच दिल्ली की ऑक्सीजन सप्लाई रोक रहे दूसरे राज्य- सीएम केजरीजवाल

मालूम हो कि केंद्र सरकार ने कहा है कि यह मंच आरोप-प्रत्यारोप का नहीं था। इस मंच पर देश के पीएम और सभी मुख्यमंत्रियों को कोरोना काल से कैसे उबरा जायें-इस पर चर्चा केंद्रित था। वहीं केजरीवाल ने सरकार को सुझाव देते हुए कहा कि ऑक्सीजन की सप्लाई के लिये एयरफोर्स का इस्तेमाल किया जाना चाहिये। वहीं उन्होंने कोरोना से दिल्ली में हालात लगातार हो रही बदतर का भी जिक्र किया। 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.