Monday, Jan 25, 2021

Live Updates: Unlock 8- Day 25

Last Updated: Mon Jan 25 2021 09:39 PM

corona virus

Total Cases

10,672,185

Recovered

10,335,153

Deaths

153,526

  • INDIA10,672,185
  • MAHARASTRA2,009,106
  • ANDHRA PRADESH1,648,665
  • KARNATAKA936,051
  • KERALA911,382
  • TAMIL NADU834,740
  • NEW DELHI633,924
  • UTTAR PRADESH598,713
  • WEST BENGAL568,103
  • ODISHA334,300
  • ARUNACHAL PRADESH325,396
  • RAJASTHAN316,485
  • JHARKHAND310,675
  • CHHATTISGARH296,326
  • TELANGANA293,056
  • HARYANA267,203
  • BIHAR259,766
  • GUJARAT258,687
  • MADHYA PRADESH253,114
  • ASSAM216,976
  • CHANDIGARH183,588
  • PUNJAB171,930
  • JAMMU & KASHMIR123,946
  • UTTARAKHAND95,640
  • HIMACHAL PRADESH57,210
  • GOA49,362
  • PUDUCHERRY38,646
  • TRIPURA33,035
  • MANIPUR27,155
  • MEGHALAYA12,866
  • NAGALAND11,709
  • LADAKH9,155
  • SIKKIM6,068
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS4,993
  • MIZORAM4,351
  • DADRA AND NAGAR HAVELI3,377
  • DAMAN AND DIU1,381
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
center to decide serum biotech share in states prshnt

राज्यों में सीरम-बायोटेक का हिस्सा तय करेगी केंद्र, 16 जनवरी से शुरू होगा टिकाकरण

  • Updated on 1/14/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। कोरोना (Coronavirus) से जंग में दो वैक्सीन (Corona vaccine) को 12 जनवरी से अलग-अगल राज्यों में वितरित किया जा रहा है। इसी बीच सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (Serum Institute of India) के कोविसिल्ड और भारत बायोटेक (Bharat Biotech) के कोवैक्सिन को लेकर केंद्र राज्यों को सूचित करेगा कि वह किस अनुपात में वैक्सीन को प्राथमिकता समूहों के लिए प्रदान करें, वहीं जिला स्तर पर समान वितरित करने का अंतिम निर्णय किसके द्वारा किया जाएगा। सरकारी सूत्रों के मुताबिक दो टीकों के वितरण पर चर्चा के लिए पिछले चार दिनों में राज्यों के साथ चार वीडियो-कॉन्फ्रेंस सेशन हुए हैं जिसमें राज्यों द्वारा रोलआउट के शुरू होने पर महत्वपूर्ण प्रश्न किए गए।

पीएम मोदी कर सकते हैं कोविड-19 टीकाकरण अभियान की शुरुआत

राज्य सरकार तय करेगा वैक्सीन बूथ
सूत्रों के अनुसार केंद्र सरकार का काम वैक्सीन की खुराक प्रदान करना है, जो कि सीरम संस्थान की 1.1 करोड़ खुराकें हैं और भारत बायोटेक की 55 लाख खुराकें हैं। केंद्र ने राज्यों को यह भी बताया है कि जो भी अनुपात है, वह बूथों पर उपलब्ध होगा, क्योंकि खुराक का मिश्रण नहीं हो सकता है। इसलिए एक बार एक राज्य सरकार यह तय करती है कि एक विशिष्ट सत्र साइट भारत बायोटेक का प्रबंधन करेगी, फिर वह साइट भारत बायोटेक सत्र साइट बनी रहेगी। उसमें बदलाव नहीं हो सकता, क्योंकि जो कोई भी उस साइट पर 16 जनवरी को टीका लगवाने जाएगा वे दूसरी खुराक पाने के लिए 28 तारीख को फिर से वही ही आएगा। 

FM हुसैन और मुगलों के बारे में बच्चों को गलत जानकारी दे रहा NCERT, RTI से हुआ बड़ा खुलासा

केंद्र राज्यों को बताएगा कि क्या अनुपात लागू होगा
एक अधिकारी से मिली जानकारी के मुताबिक, केंद्र ने पंजाब के एक निश्चित अनुपात में कोविशिल्ड और कोवाक्सिन के टीके दिए हैं। अगर पंजाब एक विशेष दिन में 100 सत्र साइटों का संचालन कर रहा है, तो X और Y अनुपात उन 100 साइटों पर लागू होगा। केंद्र राज्यों को बताएगा कि क्या अनुपात लागू होगा।

सूत्रों ने कहा कि पंजाब में कोविशिल्ड और कोवाक्सिन दोनों डबल-डोज टीके के केवल 3 लाख खुराकें मिलीं। सूत्रों ने कहा, हमने उन्हें दोहराया कि दो खुराक के लिए पर्याप्त मात्रा में टीके एक बार में नहीं दिए जाएंगे, राज्यों के पास खुराक जाती रहेगी। कंपित खरीद और आपूर्ति होगी।

पीएम मोदी के करीबी पूर्व IAS अरविंद कुमार शर्मा की यूपी बीजेपी में एंट्री

महाराष्ट्र में कोरोना की खुराक का ब्योरा
सूत्रों ने बताया कि महाराष्ट्र यह जानना चाहता है कि चूंकि उसे केवल 4.5 लाख खुराकें मिली हैं, जब उसके पास 8 लाख स्वास्थ्य कर्मचारी हैं, तो क्या उन्हें केवल आधे हिस्से को कवर करना चाहिए। अधिकारी ने कहा कि राज्य को बताया गया है कि सभी 8 लाख लोग अपनी पहली खुराक प्राप्त करेंगे। लेकिन सभी 8 लाख इसे 1 दिन पर प्राप्त नहीं करेंगे। वे इसे तीन या चार दिनों में प्राप्त करेंगे। जब तक महाराष्ट्र में 4.5 लाख स्वास्थ्य कर्मचारी काम करते हैं, तब तक उन्हें अधिक खुराक दी जाएगी।

यहां पढ़े कोरोना से जुड़ी बड़ी खबरें...

 

comments

.
.
.
.
.